RANCHI: हत्या की आशंका से सहमे लोग पुलिस के पास जाने से कतराते हैं. बुधवार को नया टोली पंडरा में रहनेवाली एक महिला प्रभा देवी कोतवाली थाना पहुंची. पीडि़ता का कहना है कि उसे जान से मारने की धमकी दी गई. उसका परिवार खुद को असुरिक्षित महसूस कर रहा है. उसे उस महिला के आतंक से मुक्ति दिलाएं. उसने कहा कि यदि न्याय नहीं मिला, तो वह पूरे परिवार समेत आत्मदाह कर लेगी. कोतवाली इंस्पेक्टर ने महिला के आवेदन पर सनहा दर्ज कर कार्रवाई के लिए पंडरा ओपी पुलिस को दिया है.

क्या कहती है विक्टिम

कोतवाली थाना पुलिस के समक्ष विक्टिम प्रभा देवी ने बताया कि नवंबर 2016 में उसने अपनी बेटी के इलाज के लिए 65 हजार रुपए लिये थे. अब तक आठ हजार रुपए जमा कर दी है. फिर, उसने एक दिन उसे घर बुलाया और कहा कि नौ लाख रुपए दो, वरना तुम जिस मकान में रह रही हो, उसे खाली करो. अन्यथा सूद का नौ लाख रुपए दे दो. इंस्पेक्टर को महिला ने कहा कि जब उसने इसका विरोध किया तो रिया सिन्हा ने उसे चप्पलों से पीटा. पिटाई से वह जमीन पर गिर पड़ी. फिर वह वहां से लौट गई. रिया सिन्हा ने उसे धमकी दी है कि यदि स्टाम्प पेपर लेकर नहीं आई, तो उसे दुनिया का कोई भी आदमी नहीं बचा सकता है.

स्पेशल ब्रांच ने भी दी है रिपोर्ट

इस मामले में स्पेशल ब्रांच की टीम की ओर से ाी एक रिपोर्ट जारी की गई थी. रिपोर्ट के मुताबिक, सुजीत सिन्हा ने डोरंडा के कुसई कॉलोनी के सत्यभामा अपार्टमेंट में एक फ्लैट खरीदा है, जिसमें डेकोरेशन का काम कराया जा रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक, सुजीत सिन्हा द्वारा रंगदारी में वसूले गए पैसों को उसकी पत्नी रिया सिन्हा सूद में लगाती है. सूद की वसूली के लिए भी सुजीत कई लोगों को धमकी दे चुका है. रिया सिन्हा के पंडरा स्थित घर में भी सुजीत सिन्हा के गुगरें को लगातार आना-जाना है. मामले में स्पेशल ब्रांच ने डीजीपी को पत्र लिखा है. सुजीत सिन्हा और उसकी पत्‍‌नी रिया सिन्हा पर विशेष तौर पर निगरानी रखने का निर्देश भी रांची एसएसपी और पलामू के एसपी को दिया था.

जेल से कारोबारियों को धमकी

हजारीबाग जेल में बंद कुख्यात अपराधी सुजीत सिन्हा जेल में रहते हुए रांची और पलामू के कई जमीन कारोबारियों को धमकी देता रहा है. जेल में रहते हुए सुजीत द्वारा रंगदारी वसूलने के सनसनीखेज मामले का खुलासा हुआ है.

जमानत रद करने का था आदेश

एडीजी ने निर्देश दिया है कि एसएसपी रांची और पलामू एसपी हजारीबाग जेल में बंद सुजीत सिन्हा के विरुद्ध दर्ज सारे मामलों की समीक्षा करें. इसके बाद उसकी जमानत रद करने की कार्रवाई की जाए. रिया सिन्हा के बारे में भी अधिक से अधिक सूचनाएं जुटाने के आदेश दिए गए थे.

महिला थाना प्रभारी ने पंडरा में दर्ज कराया है केस

जानकारी के अनुसार, एक बार पुलिस रिया सिन्हा के घर पर छापेमारी की थी, तो उसने डीएसपी पर दुष्कर्म करने का प्रयास का आरोप लगाते हुए कपड़ा फाड़ लिया था. महिला थाना प्रभारी दीपिका प्रसाद को बर्बाद करने की धमकी भी दी थी. इसके बाद महिला थाना प्रभारी ने रिया सिन्हा के खिलाफ पंडरा ओपी में मामला दर्ज कराया था.

कौन है सुजीत सिन्हा

सुजीत सिन्हा पर रांची के अलावा रामगढ़ और पलामू में दर्जनों मामले दर्ज हैं. इनमें हत्या, रंगदारी और लेवी वसूलने जैसे गंभीर मामले भी हैं. सुजीत सिन्हा हाल के वषरें में आतंक का पर्याय बन गया है. उसे रांची के इंजीनियर समरेंद्र से अपराधी लवकुश शर्मा द्वारा एक करोड़ की रंगदारी मांगने से जुड़े मामले का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है.

भाइयों की हत्या से आया था चर्चा में

बताया जा रहा है कि सुजीत सिन्हा पर हत्या, लूट और रंगदारी के दो दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं. इसका डालटनगंज-पांकी रोड में आवास है. पहले इसका आवास नावाटोली में था. यह 2005 में डालटनगंज के बेलवाटीकर में सरेआम दो भाइयों की हत्या दर्जनों लोगों के सामने की थी. इसके बाद यह चर्चा में आया था.

एसएलआर लेकर फरार हुआ था

वर्ष 2011 में पलामू से दुमका ले जाने के दौरान हजारीबाग के बरकाकाना में सुजीत सिन्हा पुलिस की कस्टडी से एसएलआर लेकर फरार हो गया था. इसकी पलामू के ही डबलू सिंह गैंग से भी पुरानी अदावत है. दोनों गैंग एक-दूसरे को समय-समय पर टारगेट करते रहता है. कुछ माह पूर्व जयकुमार सिंह उर्फ नन्हकू सिंह को छह गोली मारकर हत्या करने में सुजीत सिन्हा और इसके भाइयों पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

अपराधी की पत्नी सूद में पैसा लगाने का कारोबार करती है. इस बात की सूचना रांची पुलिस को मिली है. पुलिस इस मामले में छानबीन कर रही है.

-एवी होमकर, डीआईजी, दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल

Crime News inextlive from Crime News Desk