-स्थानीय संगठन के चुनाव से पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं को स्पष्ट संदेश

-संगठन प्रभारी ने चुनाव में ट्रांसपरेंसी का किया दावा

varanasi@inext.co.in

VARANASI

जिला कार्यालय, मैदागिन में सोमवार को स्थानीय कांग्रेस संगठन के चुनाव की महत्वपूर्ण मीटिंग हुई. इसकी अध्यक्षता जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा ने की. कांग्रेस के सभी फ्रंटल संगठनों के अलावा जनप्रतिनिधियों ने शिरकत की. चीफ गेस्ट अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस कमेटी द्वारा नियुक्त संगठन प्रभारी हरियाणा के एमएलए नरेश शर्मा रहे. उन्होंने कहा कि वाराणसी के बारे में जितना मीडिया द्वारा प्रचारित था और सुन रहा था उसका रंचमात्र भी मुझे कहीं देखने को नहीं मिला. नरेश शर्मा ने कहा कि संगठन चुनावों में इस बार किसी भी बडे़ नेता की जेब से कोई उम्मीदवार स्वीकार नहीं होगा. प्राथमिकता उसी को मिलेगी जिसने सदस्यता में अधिकाधिक योगदान दिया होगा.

ट्रांसपरेंसी से कोई समझौता नहीं

नरेंद्र शर्मा ने कहा कि कांग्रेस जन बिल्कुल निश्चिंत रहें. इलेक्शन में ट्रांसपरेंसी हर चरण में रहेगी. जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा ने कहा कि भाजपा सबसे बड़ी मिस कॉल पार्टी है. फर्जी मिस कॉल के आधार पर खुद को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बताती है. मीटिंग में अनिल श्रीवास्तव, प्रमोद पांडेय, प्रो. अनिल उपाध्याय, दुर्गाप्रसाद गुप्ता, देवेंद्र सिंह, रामसुधार मिश्रा, शैलेंद्र सिंह, हर्षवर्धन सिंह आदि उपस्थित रहे. धन्यवाद शहर कांग्रेस अध्यक्ष सीताराम केसरी ज्ञापित किया.

दिल्ली पहुंची विरोध की चिंगारी

कांग्रेस के स्थानीय संगठन में जिला व महानगर के अध्यक्षों को लेकर उठे विरोध के स्वर अब पार्टी के शीर्ष नेतृत्व तक पहुंच गया है. संगठन प्रभारी नरेश शर्मा न्यूज पेपर्स की कटिंग के साथ ही अनुशासन समिति का पत्र भी साथ लेकर गए. पूरा प्रकरण राष्ट्रीय व प्रदेश नेतृत्व के समक्ष रखा जाएगा.

उनकी भी गड़ी रहीं नजरें

संगठन प्रभारी की मीटिंग में विरोध के स्वर उठाने वाले जितेंद्र सेठ, प्रमोद श्रीवास्तव व पूर्व विधायक कैलाश टंडन ने शिरकत नहीं की, लेकिन उनकी नजरें वहां गड़ी थीं. वरिष्ठ नेता विजय गोयल ने इनका पक्ष रखा. कहा कि सभी पुराने व कांग्रेस के प्रति समर्पित कार्यकर्ता हैं. उनकी बातें भी सुनी जाए और आपस के मनमुटाव को दूर किया जाए.