दिवाली पर घर रौशन करने आ गईं नई नवेली LED लाइट्स

By: Inextlive | Publish Date: Thu 12-Oct-2017 07:29:04   |  Modified Date: Thu 12-Oct-2017 07:30:23
A- A+
दिवाली पर घर रौशन करने आ गईं नई नवेली LED लाइट्स
- त्योहार की सजावट को लेकर तैयार हुए शहर के बाजार - रेती-नखास आदि मार्केट्स में एलईडी लाइट्स की भरमार

GORAKHPUR: दिवाली को लेकर घरों से लेकर बाजारों तक तैयारियां जोरों पर है. शहर के बाजार सजावट वाले सामानों से जममगा उठे हैं. हमेशा की तरह इस बार भी दुकानें झालरों, लाइटों और दीयों से भरी पड़ी हैं. लेकिन इस बार कुछ ऐसे प्रोडक्ट भी हैं जिनमें नयापन है. बैटरी वाली एलईडी कैंडल, एसएमडी स्ट्रिप लाइट, इलेक्ट्रिक लैनटर्न, एलईडी पाइप और देसी पट्टे पर बनी लाइट. इनमें सबसे अधिक मांग एलईडी कैंडल की है. छह रंग की रोशनी देने वाली यह कैंडल फुटकर में 20 रुपए प्रति पीस के हिसाब से बिक रही है, जबकि थोक में इसकी कीमत करीब 15 रुपए तक है. इसके अलावा इस समय तमाम तरह की चाइनीज लाइट व झालरें भी मार्केट में आ चुकी हैं. हालांकि व्यापारियों का मानना है कि इस बार जीएसटी की वजह से रेट बढ़ने से अभी बिक्री में पिछले साल जितनी तेजी नहीं है.

 

सबसे महंगी एलईडी पाइप

घोष कंपनी से नखास की ओर जाने वाली कोतवाली रोड इन दिनों एलईडी लाइट्स व झालरों की मंडी बनी हुई है. बाजार में इस साल सजावट का सबसे महंगा आइटम एलईडी पाइप है, जो थोक में 32.50 रुपए और फुटकर में करीब 40 रुपए मीटर के हिसाब से बिक रहा है. हालांकि व्यापारियों के मुताबिक इस बार बाजार पिछले साल के मुकाबले थोड़ा मंदा है. जीएसटी के बाद लाइट आइटम्स के भी रेट थोड़ी बढ़े हैं. ऐसे में व्यापारी अभी ज्यादा नए आइटम नहीं मंगा रहे हैं. व्यापारियों का कहना है कि डिमांड को देखते हुए ही और स्टॉक मंगाया जाएगा.

 

देसी आइटम में चाइनीज लाइट

होलसेल कारोबारियों कहना है कि बाजार में कोई ऐसा प्रॉडक्ट नहीं है, जिसको 100 फीसद देसी कहा जाए. सभी आइटम्स में चाइनीज एलईडी लाइट लगी हैं. यहां तक कि देसी लैनटर्न की लाइट भी चाइनीज है, हालांकि पिछले साल के मुकाबले प्रोडक्ट्स की कीमत काफी बढ़ी है. व्यापारियों के मुताबिक इन लाइट्स व झालरों में राइज, एलईडी, एलईडी मल्टी, स्टिक लाइट, रोप लाइट आदि की काफी डिमांड है. जिसे देखते हुए व्यापारियों ने माल स्टॉक कर रखा है.

 

त्योहार को देखते हुए व्यापारियों ने माल तो सब स्टॉक कर रखा है, लेकिन पिछले साल की अपेक्षा अभी बिक्री उतनी तेज नहीं है. अभी तक होलसेल व्यापारियों का 25 फीसद माल भी नहीं निकला है.

- औसाब अहमद, थोक व्यापारी

 

लाइट्स व झालरों की सभी रेंज मार्केट में आ चुकी हैं. उम्मीद है कि अब मार्केट में तेजी आएगी. हालांकि इससे पहले अब तक व्यापारियों को माल खत्म होने लगता था, लेकिन इस बार ऐसा नहीं है.

- मोहम्मद सलीम, थोक व्यापारी