छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: अक्षय तृतीया को लेकर सर्राफा बाजार गुलजार है. ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए बाजार में एक से बढ़कर एक ट्रेडिशनल, डिजाइनर व इनोवेटिव ज्वेलरी उपलब्ध हैं. ग्राहक भी इस शुभ अवसरपर सोने-चांदी की खरीदने की तैयारी में हैं. इस बार अक्षय तृतीय में व्हाइट गोल्ड की खास डिमांड देखी जा रही है, ट्रेडिशनल लुक में गोल्ड के साथ जड़ा कुंदन का क्रेज ग्राहकों को लुभा रहा है. बदलते दौर के साथ फैशन में आए बदलाव का असर ज्वेलरी मार्केट पर भी पड़ा है. हाल के वर्षों में ज्वेलरी का ट्रेंड भी लगातार चेंज होता जा रहा है. सोने-चांदी, हीरे आदि के आभूषणों की डिजाइन के साथ-साथ गोल्ड के विभिन्न रंगों और दूसरे देशों की फेमस डिजाइनों की मांग अब लौहनगरी में दिख रही है.

व्हाइट गोल्ड टीन एजर्स की पसंद

शहर के बड़े ज्वेलर्स का कहना है कि शहरवासियों ने शुरू से ही ज्वेलरी के न्यू कलेक्शन को प्राथमिकता दी है. वे सोने में इन्वेस्टमेंट को लेकर भी काफी अवेयर हैं. इन दिनों गोल्ड के लेटेस्ट ट्रेंड में व्हाइट गोल्ड की एंट्री स्पेशल सेगमेंट को डील कर रही है. हाल के दिनों में टीन एजर्स में व्हाइट गोल्ड का क्रेज बढ़ा है. ज्वेलर्स की मानें, तो व्हाइट गोल्ड के साथ-साथ इटेलियन और कोरियन ज्वेलरी की भी डिमांड बढ़ी है. सोने और हीरे के आभूषणों में इटेलियन और कोरियन ज्वेलरी की सभी डिजाइंस उपलब्ध हैं. इसके अलावा कुंदन के सेट पार्टी वियर और वेडिंग थीम के लिए काफी पसंद किए जा रहे हैं.

व्हाइट गोल्ड में क्या-क्या

बाजार में व्हाइट गोल्ड की इई चीजें मिलती हैं. साधारण हो या फिर हीरे लगी चूडि़यां, अंगूठी, चेन, पेडेंट, ब्रेसलेट आदि उपलब्ध हैं. व्हाइट गोल्ड और डायमंड की रीसेल वैल्यू येलो गोल्ड की तुलना में अधिक होती है. इसके विपरीत व्हाइट गोल्ड की चेन या अन्य आभूषण पहनने से पहली नजर में वेस्टर्न आभूषण का लुक नजर आता है.

व्हाइट गोल्ड के फायदे

यह प्लेटिनम से ज्यादा किफायती होता है. इस समय यह प्लेटिनम से ज्यादा फेमस है. इसमें पैलैडियम, चांदी, या निकेल के साथ रोहडियम कोटिंग करने से यह पीले रंग सोने से ज्यादा मजबूत और ड्यूरेबल होता है. इसपर स्क्रैच लगने की आशंका भी बेहद कम होती है.