'सुंदरी मुंदरी तेरा कौन सहारा होय'

By: Inextlive | Publish Date: Sun 14-Jan-2018 07:00:31
A- A+
'सुंदरी मुंदरी तेरा कौन सहारा होय'

- पंजाबी और सिख समुदाय ने धूमधाम के साथ सेलीब्रेट किया लोहिड़ी पर्व

BAREILLY:

पारंपरिक गीतों पर थिरकते कदम, ढोल की थाप पर भांगड़ा और जलती लोहिड़ी का गर्म अहसास, आशीर्वाद देते हाथ, सैटरडे को कुछ इसी अंदाज में लोहिड़ी पर्व मनाया गया। सेलीब्रेशन के दौरान जमकर मस्ती हुई। कॉलोनीज के बाहर मेले जैसा माहौल रहा। पारंपरिक वेशभूषा में सजे कपल्स और यूथ ने डांस से मन मोह लिया। लोहिड़ी जलाने के बाद उसकी परिक्रमा कर पूजन हुआ। फिर मौजूद लोगों को मूंगफली, रेवड़ी और मक्के का प्रसाद बांटा गया।

यूं बिखरी खुशियां

मॉडल टाउन और राजेंद्र नगर समेत शहर के अन्य एरिया के सिख और पंजाबी समुदाय की ओर से लोहड़ी पर्व धूमधाम के साथ सेलीब्रेट किया गया। देर शाम लोहिड़ी जलाकर खुशियां मनाने का सिलसिला शुरू हुआ जो देर रात तक चलता रहा। इस मौके पर मॉडल टाउन और राजेंद्र नगर गुरुद्वारा चौराहा, सनातन धर्म मंदिर, श्री हरि मंदिर व अन्य मंदिरों समेत कॉलोनीज में जलाई गई लोहिड़ी के पास भारी संख्या में लोग मौजूद रहे। इसके अलावा शहर की कॉलोनीज और पर्सनली भी लोहिड़ी जलाकर प्रसाद वितरित किया गया। फैमिलीज ने सुख शांति की कामना कर सभी ने बड़ों का आशीवर्1ाद लिया.

नवदंपत्ति ने लिया आशीर्वाद

पंजाबी और सिख समुदाय की ओर से सेलीब्रेट किए जाने वाला लोहड़ी पर्व नवदंपत्ति के लिए खास होता है। इस दिन का कपल्स को बेसब्री से इंतजार रहता है। शादी के बाद यह पहला मौका होता है जब ससुराल और मायका एक साथ मिलकर सेलीब्रेशन करते हैं और नवदंपत्ति को सुख समृद्धि का आशीर्वाद देते हैं। शहर के मॉडल टाउन, मेगा सिटी, राजेंद्र नगर, रामपुर गार्डन में नवदंपत्तियों की गोद रेवड़ी, मूंगफली और मक्के के प्रसाद से भरी गई। वर- वधू को दोनों पक्षों ने गिफ्ट्स दिए। वहीं, छोटे बच्चे जिनकी पहली लोहिड़ी थी उन्हें प्रसाद दिया गया। इसके बाद बने पकवानों को सबने मिलकर चखा और लोहड़ी के पारंपरिक गीतों से माहौल गुनगुनाता रहा।

inextlive from Bareilly News Desk