Varanasi:  डीरेका में मंगलवार को आरपीएफ जवान जीयन राम के साथ हुई चार लाख रुपयों की छिनैती ने एक पिता के उन अरमानों को मार दिया. जिनको पूरा करने के लिए उसने अपनी पूरी जिंदगी की कमाई खर्च करने की प्लानिंग की थी. दरअसल मंगलवार को डीरेका में आरपीएफ जवान के साथ हुई चार लाख रुपयों की छिनैती के बाद पीडि़त का वो दर्द सामने आया. जिसने वहां मौजूद पुलिस वालों की भी आंखें नम कर दी. पीडि़त रोते-रोते बेहोश भी हो गया. उसने होश में आने के बाद बताया कि बदमाश जो पैसे छीन ले गए वो उसने अपनी बेटी की शादी के लिए निकाले थे लेकिन अब समझ नहीं आ रहा बेटी के हाथ पीले कैसे करेगा.

मंडुवाडीह में आरपीएफ के हेड कांस्टेबल व गाजीपुर के मूल निवासी जीयन राम बेटी की 21 नवम्बर को होने वाली शादी के लिए मंगलवार को डीरेका स्थित एसबीआई से रुपये निकालने गए थे. उन्होंने अपने पीएफ फंड से ट्रांसफर हुए चार लाख रुपये निकाले और झोले में रखकर जीयन बैरक की तरफ वापस जा रहे थे. इसी बीच सेंट्रल मार्केट के पास स्थित चाय की दुकान के पास से एक बाइक सवार दो बदमाश वहां पर तेजी से पहुंचे और झपट्टा मार कर झोला छीनकर भाग गये. जीयन राम ने शोर भी मचाया लेकिन अपराधी भागने में कामयाब हो गये.

वर्दी का भी नहीं आया खौफ

बदमाशों ने जीयन को उस वक्त शिकार बनाया जब उन्होंने वर्दी पहन रखी थी. बावजूद इसके बदमाशों ने इस वारदात को अंजाम दिया. जिससे ये साफ हो गया है कि बदमाशों में अब खाकी का बिल्कुल भी खौफ नहीं रहा है.

कैमरे हुए फेल

डीरेका में सुरक्षा को लेकर लंबे-लंबे दावे करने वाले पूरे प्रशासनिक महकमे की पोल इस घटना के बाद खुल गई. वजह पुलिस ने जब घटना के कुछ देर बाद डीरेका कैंपस में लगे सीसी कैमरों के फुटेज को खंगाला तो हाथ कुछ नहीं लगा. वजह कुछ कैमरे गड़बड़ थे तो कुछ को डायरेक्शन ही ठीक नहीं था.

Crime News inextlive from Crime News Desk