टमाटर गिरा, पर प्याज का चढ़ा हुआ है पारा

By: Inextlive | Publish Date: Wed 15-Nov-2017 05:31:28   |  Modified Date: Wed 15-Nov-2017 05:34:24
A- A+
टमाटर गिरा, पर प्याज का चढ़ा हुआ है पारा
मुंडेरा मंडी के व्यापारियों की पहल का अन्य मंडियों पर दिखा कुछ असर

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सब्जी दुकानदारों की मनमानी के खिलाफ पब्लिक को सस्ती दरों पर टमाटर और प्याज अवेलेबल कराने के लिए मुंडेरा मंडी समिति और थोक विक्रेता समिति ने स्टॉल क्या लगाया, फुटकर दुकानदारों को प्याज और टमाटर का भाव घटाना ही पड़ा. मंडी समिति और थोक विक्रेताओं के पहल का असर दिखा. कुछ दुकानदारों ने जहां अपने स्तर से टमाटर और प्याज का भाव कुछ घटाया. वहीं पब्लिक ने भी दुकानदारों पर रेट घटाने का दबाव बनाया.

 

दिखाई दिया असर

शहर की सबसे बड़ी सब्जी मंडी में एक मुंडेरा मंडी में बड़े पैमाने पर प्याज और टमाटर की आवक होने के बाद भी टमाटर और प्याज के भाव में कमी न आने और दुकानदारों द्वारा 60 से 70 रुपए किलोग्राम का भाव बेचे जाने के विरोध में शुरू हुए अभियान का असर मंगलवार को शहर के अन्य सब्जी मार्केट में दिखाई दिया. जिन सब्जी मार्केट में अभी तक टमाटर 60 रुपये के नीचे नहीं मिल रहा था, वहां दुकानदारों ने टमाटर का रेट गिराकर 60 से 40 और 45 रुपए कर दिया. वहीं कुछ वीआईपी इलाकों में टमाटर 60 रुपए किलोग्राम ही बिका. टमाटर की अपेक्षा प्याज का भाव कुछ कम गिरा. मुंडेरा मंडी में प्याज 30 रुपये किलोग्राम बिक रहा है. लेकिन फुटकर मार्केट में प्याज का दाम अन्य दिनों की अपेक्षा केवल दस रुपए कम यानी 50 रुपए रहा.

 

पब्लिक ने की बहस

मुंडेरा मंडी के पहल का असर ये रहा कि जो लोग अभी तक यह समझ रहे थे कि टमाटर और प्याज की आवक कम होने से रेट बढ़ा हुआ है. उन्हें ये पता चल गया कि रेट बढ़ा नहीं बल्कि जबर्दस्ती बढ़ाया गया है. इसको लेकर लोग सब्जी दुकानदारों से बहस भी करते हुए देखे गए. राजरूपपुर सब्जी मंडी में लोगों ने दुकानदारों से प्याज और टमाटर का भाव मनमाना तरीके से बढ़ाए जाने का विरोध किया.

 

 

मंगलवार को बड़ी संख्या में लोगों ने मुंडेरा मंडी पहुंच कर रिटेल स्टॉल से टमाटर और प्याज खरीदा. वहीं सब्जी दुकानदारों ने भी टमाटर और प्याज का भाव कुछ कम किया. जल्द ही रेट और कम होगा. मनमाना रेट बढ़ाने वाले दुकानदारों पर लगातार यही दबाव बनाया जा रहा है.

-सतीश कुशवाहा

अध्यक्ष, मुंडेरा मंडी, थोक विक्रेता संघ