Meerut: कंकरखेड़ा पुलिस ने नायाब कारनामा कर दिखाया. युवक की हत्या के केस में गोली के घाव को रूई से भरकर परिजनों को खून की उल्टी से मौत की जानकारी दी गई. अंतिम संस्कार के पहले जब युवक को नहलाया गया तो हकीकत सामने आ गई. युवक की पीठ में गोली धंसी थी और घाव में रूई भरी थी. पुलिस की संवेदनहीनता पर परिजनों ने जमकर हंगामा किया. मामले की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी ने आरोपी दरोगा के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं.

यह है मामला

चंदौड़ी गांव निवासी दलित युवक प्रशांत को गांव के दो युवक एक शादी में आतिशबाजी के लिए कंकरखेड़ा ले गए थे. इस दौरान किसी ने उसकी पीठ में गोली मारकर हत्या कर दी. शव को कंकरखेड़ा बाईपास स्थित एक फार्म हाउस में फेंक दिया. फार्म हाउस के मालिक ने पुलिस को शव के बारे में सूचना दी. मौके पर पहुंची कंकरखेड़ा पुलिस ने मृतक के परिजनों को बुलाया.

गोली के घाव में भर दी रूई

परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने कानूनी कार्रवाई से बचने के लिए खेल करते हुए शव के घाव को रूई से भर दिया. परिजनों से कहा कि उसको खून की उल्टी हुई है. इसका कारण उसकी मौत हो गई. जिसके बाद परिजन शव ले गए.

नहलाने पर ख्ाुला मामला

अंतिम संस्कार के पहले परिजनों ने जब शव को नहलाया तो मृतक युवक की पीठ पर गोली का घाव नजर आया, जिसमें रूई भरी थी. पुलिस की इस संवेदनहीनता पर भाजपा नेता डॉ. रवि प्रकाश समेत आसपास के कई लोगों ने कंकरखेड़ा पुलिस के खिलाफ हंगामा कर बाईपास पर जाम लगा दिया.

बाद में कराया पाेस्टमार्टम

हंगामे के बाद पुलिस ने आनन फानन में मृतक का वीडियोग्राफी में पोस्टमार्टम कराया, जिसमें मृतक के शरीर से बुलेट निकली है. रिपोर्ट के मुताबिक युवक की मौत गोली लगने से हुई है.

जांच के आदेश

मामले की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी मंजिल सैनी ने कंकरखेड़ा के दरोगा रविंद्र के खिलाफ सीओ दौराला को जांच के निर्देश दिए है. उन्होंने बताया कि जांच रिपोर्ट आने पर दरोगा के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

दरोगा की लापरवाही सामने आ रही है. सीओ की जांच रिपोर्ट मिलते ही दरोगा के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

मंजिल सैनी, एसएसपी

Crime News inextlive from Crime News Desk