क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ:मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सोमवार को एटीआई सभागार में नेशनल यूथ डे के अवसर पर स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद आज भी प्रासंगिक हैं. उनके बताए रास्ते पर चलकर ही एक सशक्त राष्ट्र का निर्माण संभव है. राज्य के विकास के लिए खास कर युवा शक्ति को उनके बताए रास्ते पर चलने की जरूरत है.

विवेकानंद मंदिर में मनी स्वामीजी की जयंती

विवेकानंद विद्या मंदिर स्कूल कैंपस में स्वामी विवेकानंद की 151वीं जयंती पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाई गई. स्कूल कैंपस में स्थित स्वामीजी की प्रतिमा आज भी जीवंत है, जिनसे सभी प्रेरणा लेते हैं. इस मौके पर विशेष प्रार्थना सभा आयोजित की गई. स्कूल के प्रिंसिपल समरजीत जाना ने स्वामी जी के विचारों को सबके सामने रखा. धार्मिक असमानता को भारतीय सभ्यता के प्रतिकूल बताते हुए स्वामी जी के सर्व धर्म समन्वयम की भावना को बताया. साथ ही विद्यालय की टीचर जयंती राय ने सभी को आत्म नियंत्रण का संदेश दिया. मौके पर विवेकानंद से जुड़ी कई प्रसंगों का वर्णन किया गया.

यूथ डे पर वीमेंस कॉलेज में एस्से राइटिंग कॉम्पटीशन

नेशनल यूथ डे पर एनएसएस की ओर से सोमवार को रांची वीमेंस कॉलेज के आ‌र्ट्स ब्लॉक के रूम नंबर सात में एस्से राइटिंग कॉम्पटीशन का आयोजन किया गया. इसकी ओपनिंग प्रिंसिपल डॉ. मंजू सिन्हा ने की. एस्से राइटिंग का टॉपिक था-आज के युवा और स्वामी विवेकानंद. इसमें 21 छात्राओं ने पार्टीसिपेट किया. पॉलिटिकल साइंस की दीपा कुमारी को फ‌र्स्ट प्राइज मिला. वहीं नेहा परवीन को सेकेंड और सीमा कुमारी को थर्ड प्राइज मिला. इसके अलावा नेहा और सुधारानी को सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया गया. प्रोग्राम का संचालन एनएसएस पदाधिकारी डॉ. प्रज्ञा ने किया. मौके पर डॉ. सुनीता यादव, डॉ. माधुरी रजक, डॉ. किरण तिवारी सहित कई टीचर्स और स्टूडेंट्स प्रेजेंट थे.