LUCKNOW: गोसाईगंज के कासिमपुर गांव में नवविवाहिता की गला रेतकर हत्या कर दी गई. उसका शव शुक्रवार सुबह घर से चंद कदम दूर खेत में पड़ा मिला. महिला की 6 महीने पहले ही सामूहिक विवाह समारोह में शादी हुई थी. सुबह ग्रामीणों ने शव को देखा और घटना की सूचना पुलिस को दी गई. ग्रामीण विवाहिता के साथ अनहोनी के बाद हत्या की आशंका जता रहे हैं. जबकि मृतका के पिता ने पति और ससुराल वालों के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कराया है.

6 महीने पहले हुई थी शादी

मूलरूप से बाराबंकी के सतरिख थाना के नानमऊ निवासी दिव्यांग फूलचंद्र ने बेटी पिंकी (20) की शादी गोसाईगंज के कासिमपुर के मजरे नटखेड़ा में रहने वाले देशराज के साथ 6 महीने पहले हुई थी. देशराज डीजे व साउंड सर्विस का काम करता है. फूलचंद्र ने पुलिस को बताया कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले पिंकी पर दहेज में बाइक और कैश लाने का दबाव बनाते थे. दहेज की मांग पूरी न होने पर इन लोगों ने उसकी बेटी की निर्मम हत्या कर शव को खेत मे ले जाकर फेंक दिया.

पति समेत पांच के खिलाफ केस दर्ज

पिंकी के पिता फूलचंद्र ने बेटी की हत्या का आरोप लगाते हुए उसके पति देशराज, ससुर सोहनलाल, जेठ लक्ष्मी और दो रिश्तेदार फूलकुंवर और विलास के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई.

ससुराल वालों ने लगाया भागने का आरोप

ससुराल वालों का कहना है कि पिंकी रात को घर में टीवी देख रही थी. रात करीब 11 बजे वह बिना बताए घर से बाहर निकल गई. जब देर तक वापस नहीं लौटी तो खोजबीन शुरू की. उन्होंने बताया कि पिंकी मोबाइल भी साथ ले गई थी. रात में वापस न लौटने पर देशराज अपने परिजनों के साथ पिंकी के घर से भाग जाने की सूचना देने थाने भी पहुंचा था. तभी गांव के लोगो ने पिंकी के शव के खेत मे पड़े होने की सूचना दी.

मिली टूटी चूड़ी, मिला लड्डू का डिब्बा

पिंकी का शव खेत में पड़ा मिला. शव के पास थोड़ी दूर पर पिंकी की लाल रंग की चूडि़यां टूटी मिली. शव के पास बेसन के लड्डू का डिब्बा व लड्डू पड़े मिले. पुलिस ने मौके से मिले सामान को कब्जे में लिया. गोसाईगंज थाना प्रभारी विद्यासागर पाल का कहना है कि मृतका की तहरीर पर दहेज हत्या का मामला दर्ज किया गया है. पति व ससुर को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.