मिनिमम बैलेंस रखने की छूट
देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने कुछ ग्राहकों को बड़ी राहत दी है। एसबीआई ने कुछ चुनिंदा खाता धारकों से मिनिमम बैलेंस न रखने पर वसूलने वाला चार्ज हटा दिया है। अगर ये कस्‍टमर बैंक द्वारा निर्धारित तय रकम अपने एकाउंट में नहीं रखते हैं, तो आपको कोई शुल्‍क नहीं देना पड़ेगा।

sbi के इन खाता धारकों को नहीं है मिनिमम बैलेंस रखने की जरूरत
किन खातों के लिए मिनिमम बैलेंस है जरूरी
SBI ने एक अप्रैल से अपने बैंकिंग नियमों में बदलाव किया है। एसबीआई ने मेट्रो शहरों के लिए मिनिमम बैलेंस 5,000 रुपये, शहरी इलाकों के लिए 3,000 रुपये, अर्द्ध-शहरी (सेमी अर्बन) इलाकों के लिए 2,000 रुपये और ग्रामीण इलाकों के लिए 1,000 रुपये तय की है। एक अप्रैल से यह नियम प्रभावी हो चुका है। आपको बता दें कि यह जुर्माना जरूरी मिनिमम बैलेंस और उसमें कमी के बीच के अंतर पर आधारित होगा। बैंक की वेबसाइट के मुताबिक एसबीआई के बचत खाताधारकों को मासिक आधार पर न्यूनतम राशि को अपने खाते में रखना होगा। ऐसा न करने पर ग्राहकों को 20 रुपये (ग्रामीण शाखा) से 100 रुपये (महानगर) देने पड़ सकते हैं। बैंक में 31 मार्च तक बिना चेक बुक वाले बचत खाते में 500 रुपये और चेक बुक की सुविधा के साथ 1,000 रुपये रखने की आवश्यकता थी।

Business News inextlive from Business News Desk

Business News inextlive from Business News Desk