- सरकारी काउंटर तो खोल दिए गए लेकिन टमाटर प्याज की भरपाई नही

- सही जगह पता न होने से भटकते रहे कई ग्राहक

Meerut . टमाटर और प्याज के लगातार बढते दाम से राहत देने के लिए मंडी में सरकारी काउंटर तो खोल दिए गए लेकिन इन काउंटर से भी मंडी में टमाटर प्याज की भरपाई नही हो पा रही है. मंगलवार को दिनभर ग्राहक काउंटर्स की तलाश में परेशान रहे लेकिन काउंटर के स्थान की सही जानकारी ना होने के कारण ग्राहक खाली हाथ वापस गए.

तलाश करते रहे काउंटर

सोमवार को मंडी सचिव ने टमाटर व प्याज के दो काउंटर्स की मंडी परिसर में शुरुआत की थी लेकिन दोनो ही काउंटर सब्जी मंडी परिसर से अलग होने के कारण ग्राहक काउंटर तलाश करते रहे. एक काउंटर मंडी परिसर में बने कृभको केंद्र के अंदर लगाया गया और दूसरा दाल मंडी में जिस कारण से सब्जी खरीदने आने वाले ग्राहकों को काउंटर की सही जानकारी नही मिली.

50 किलो बिका प्याज

ग्राहकों की कमी के चलते मंगलवार को एक काउंटर से करीब 50 किलो प्याज की बिक्री का एवरेज रहा. वहीं टमाटर की मांग ज्यादा रही और 80 से 100 किलो टमाटर की बिक्री हो गई.

कोटस-

इन काउंटर्स को जनता की सुविधा के लिए बनाया गया है लेकिन सब्जी मंडी से अलग होने के कारण ग्राहक काउंटर तक नही पहुंच पा रहे हैं. यदि मंडी में काउंटर लग जाएं तो बिक्री काफी अधिक बढ़ जाएगी.

- अशोक प्रधान , अध्यक्ष मंडी एसोसिएशन

मंडी परिसर में इस तरह की काउंटर से ग्राहकों को काफी लाभ है. इससे फुटकर विक्रेताओं की मनमानी पर भी लगाम लगेगा लेकिन काउंटर सही जगह पर होना चाहिए.

- सतवीर त्यागी

काफी तलाशने के बाद तक दाल मंडी में काउंटर मिला. जबकि ग्राहक सब्जी मंडी में ही काउंटर तलाश रहे हैं.

- एजाज