गया से 35 किलोमीटर दूर इंजन बेपटरी, घंटों फंसी रहीं कई ट्रेनें

By: Inextlive | Publish Date: Thu 07-Dec-2017 04:00:33
A- A+

- घटनास्थल गया जं1शन से 35 किमी दूर रफीगंज के पास

GAYA/PATNA: देश में रेलवे का खराब दिन जाने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार हो रहे रेल हादसे पर कोई कंट्रोल संभव नहीं दिख रहा है। आए दिन ट्रेनें बेपटरी हो रही है। हर हादसे के बाद आगे से रेल दुर्घटना पर लगाम लगाने के वादे किए जाते हैं लेकिन परिणाम कुछ नहीं निकलता। ताजा मामला गया से जुड़ा है जहां एक बार फिर ट्रेन के इंजन बेपटरी होने की बात कही जा रही है।

छह घंटे ट्रेनें रही बाधित

इस वजह से गया में बड़ा रेल हादसा टल गया। बुधवार की सुबह करीब साढ़े सात बजे मुगलसराय रेलखंड पर मालगाड़ी से लगने जा रहा इंजन पटरी से उतर गया। डेहरी- पटना वाया गया इंटर सिटी एक्सप्रेस फंसी रही। हादसे के कारण डाउन लाइन पर ट्रेनों का परिचालन घंटों बाधित रहा।

गया से 35 किमी दूर घटना

घटनास्थल गया जंक्शन से करीब 35 किलोमीटर दूर औरंगाबाद के रफीगंज स्टेशन है। सूचना मिलते ही रेलवे अफसर घटनास्थल पर पहुंचे। परिचालन को सामान्य करने की कवायद शुरू कर दी गई है। फि़लहाल हादसे के कारणों का पता नहीं चल सका है। हादसे के कारणों की जांच की जा रही है। हादसे के बाद रेल यात्रियों में दहशत का माहौल है। डरे पैसेंजर्स ने बताया कि हमारे पास कोई विकल्प नहीं है इसलिए ट्रेन से सफ़र करते हैं। हर सफ़र में ऐसा लगता है कि जान खतरे में है।

कुली की बहादुरी से टला हादसा

डुमरांव स्टेशन पर बुधवार की सुबह 8.45 बजे उस समय अफरातफरी मच गई जब कुली ने अप लाइन की पटरी टूटने की सूचना स्टेशन मास्टर को तत्काल दी। कुछ मिनट पहले 509 पैसेंजर ट्रेन गुजरी थी और गरीब रथ तथा नॉर्थ ईस्ट ट्रेन गुजरने वाली थी। स्टेशन मास्टर अविनाश चंद्रा ने टूटी पटरी का जायजा लिया। ठंड से पूर्वी गुमटी से 50 मीटर पहले अप लाइन पर पटरी चटकी थी। रेलकर्मियों ने तत्परता दिखाते हुए पटरी की मरम्मत करवाई। इस दौरान अप गरीब रथ और नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस को लूप लाइन से निकाला गया। पटरी चटकने का असर जसीडीह- आनंद विहार सुपर फास्ट एक्सप्रेस और श्रमजीवी एक्सप्रेस समेत 565 नंबर की पैसेंजर ट्रेन पर पड़ा। इस बीच काफी संख्या में पैसेंजर्स परेशान रहे.

inextlive from Patna News Desk