ट्रेन में पहचान के लिए साथ नहीं रखना पड़ेगा आधार

By: Prabha Punj Mishra | Publish Date: Thu 14-Sep-2017 10:52:49
A- A+
ट्रेन में पहचान के लिए साथ नहीं रखना पड़ेगा आधार
ट्रेन में सफर करने के दौरान अभी तक आपको एक आईडी प्रूफ दिखाना पड़ता था। ऐसे में अब आईडी प्रूफ के तौर पर आप को आधार कार्ड रखने की जरूरत नहीं पडेगी। रेल मंत्रालय ने यात्रियों की पहचान जानने का एक नया तरीका ढूंढ निकाला है।

now you can use maadhaar when you traveling in train
aadhaar, maadhaar, traveling in train, Identity Proof, mAadhaar, Indian Railways
ट्रेन में पहचान के लिए साथ नहीं रखना पड़ेगा आधार
ट्रेन में सफर करने के दौरान अभी तक आपको एक आईडी प्रूफ दिखाना पड़ता था। ऐसे में अब आईडी प्रूफ के तौर पर आप को आधार कार्ड रखने की जरूरत नहीं पडेगी। रेल मंत्रालय ने यात्रियों की पहचान जानने का एक नया तरीका ढूंढ निकाला है।

अब एम आधार होगा आप की नई पहचान
ट्रेन में सफर करने के दौरान अब आधार कार्ड रखने की जरूरत नहीं पड़ेगी। रेल मंत्रालय ने आरक्षित श्रेणी के यात्री के पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड के डिजीटल प्रारूप एम-आधार को भी स्वीकार करने का फैसला किया है। एम-आधार मोबाइल ऐप है। जिसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने पेश किया है। जिस पर कोई व्यक्ति अपना आधार कार्ड डाउनलोड कर सकता है। यानि ऐप पर आधार कार्ड दिखाना ही अब काफी होगा। आपको कार्ड की हार्ड कॉपी साथ में ले जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 

मोबाइल नंबर के जरिए हो सकेगा डाउनलोड
इसे उसी मोबाइल नंबर के जरिए डाउनलोड किया जा सकता है जो आधार से जुड़ा हुआ है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि आधार दिखाने के लिए यात्रियों को ऐप खोलना होगा और अपना पासवर्ड डालना होगा। भारतीय रेल की ट्रेनों में किसी भी आरक्षित श्रेणी के डिब्बे में एम -आधार को यात्री की पहचान के सबूत के तौर पर स्वीकार किया जाएगा। टैक्स फाइल करने से लेकर हर जरूरी काम में आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है। कई लोग अभी भी ऐसे हैं जिनके पास आधार कार्ड नहीं है। ऐसे में वे सरकार के रुख को देखते हुए आधार कार्ड बनवा रहे हैं।

अब एम आधार होगा आप की नई पहचान

ट्रेन में सफर करने के दौरान अब आधार कार्ड रखने की जरूरत नहीं पड़ेगी। रेल मंत्रालय ने आरक्षित श्रेणी के यात्री के पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड के डिजीटल प्रारूप एम-आधार को भी स्वीकार करने का फैसला किया है। एम-आधार मोबाइल ऐप है। जिसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने पेश किया है। जिस पर कोई व्यक्ति अपना आधार कार्ड डाउनलोड कर सकता है। यानि ऐप पर आधार कार्ड दिखाना ही अब काफी होगा। आपको कार्ड की हार्ड कॉपी साथ में ले जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 

 

मोबाइल नंबर के जरिए हो सकेगा डाउनलोड

इसे उसी मोबाइल नंबर के जरिए डाउनलोड किया जा सकता है जो आधार से जुड़ा हुआ है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि आधार दिखाने के लिए यात्रियों को ऐप खोलना होगा और अपना पासवर्ड डालना होगा। भारतीय रेल की ट्रेनों में किसी भी आरक्षित श्रेणी के डिब्बे में एम -आधार को यात्री की पहचान के सबूत के तौर पर स्वीकार किया जाएगा। टैक्स फाइल करने से लेकर हर जरूरी काम में आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है। कई लोग अभी भी ऐसे हैं जिनके पास आधार कार्ड नहीं है। ऐसे में वे सरकार के रुख को देखते हुए आधार कार्ड बनवा रहे हैं।

 

Business News inextlive from Business News Desk

खबरें फटाफट