JAMSHEDPUR:  हत्या की यह वारदात बुधवार देर रात की बताई जा रही है. पुलिस को अंदेशा है कि इस वारदात को नक्सलियों ने अंजाम दिया होगा. श्रीकांत हांसदा बोड़ाम थाना अंतर्गत गांव पुनसा टोला श्रीगुट्टू के रहनेवाले थे. पुलिस को वारदात की जानकारी गुरुवार की सुबह छह बजे मिली. सूचना के बाद पटमदा क्षेत्र के डीएसपी विमल कुमार, बोड़ाम थाना प्रभारी विक्रांत कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. चूंकि नक्सल प्रभावित क्षेत्र रहने के कारण पुलिस एहतियात बरतते हुए शव को उठाकर पोस्टमार्टम के लिए एमजीएम अस्पताल ले आई. घटनास्थल पर मृतक की हीरो होंडा बाइक गिरी हुई थी. पुलिस ने घटनास्थल से एके-47 का दो खोखा बरामद किया है. पुलिस का मानना है कि एके-47 का इस्तेमाल नक्सली ही करते हैं.

बुधवार की सुबह निकले थे घर से

मृतक श्रीकांत हांसदा के इकलौते पुत्र तुलसी हांसदा ने बताया कि उनके पिता रोज घर से सुबह सात बजे निकल जाते थे. वह डिमना चौक या पारडीह चौक के पास रहते थे. किसी को जरूरत होती थी तो उन्हें लकड़ी का काम कराने के लिए बुला कर ले जाता था. तुलसी हांसदा ने बताया कि बुधवार को भी सुबह सात बजे उनके पिता श्रीकांत हांसदा तैयार होकर हीरो होंडा डिलक्स बाइक से निकले थे. रात में नहीं आए तो घर के लोगों ने सोचा कि आज घर नहीं आएंगे. उसने बताया कि कभी-कभी काम में लेट होने पर वह रात में टाटानगर में ही रुक जाते थे. गुरुवार सुबह जब पुलिस ने सूचना दी तब पता चला कि अपराधियों ने उनके पिता की गोली मारकर हत्या कर दी है. तुलसी ने कहा कि उनके पिता की समाजसेवी के रूप में पहचान थी. वह गांव के किसी भी व्यक्ति का कोई काम हो उसे पूरा करने से नहीं चूकते थे. किसी को समझ नहीं आ रहा कि उनकी हत्या क्यों की गई. मृतक के पुत्र ने डीएसपी विमल कुमार से हत्यारों को जल्द पकड़ कर सजा दिलाने की गुहार लगाई है.

मां की हो चुकी है मौत

मृतक के पुत्र तुलसी हांसदा ने बताया कि मां सुकुरमुनी हांसदा का मौत पहले ही हो चुकी है. जबकि परिवार के लोग पिता श्रीकांत हांसदा के छाया में रह रहे थे. मां की मौत के बाद हत्यारों ने पिता की भी हत्या कर दी. बताया कि उनके अलावा दो बहन हैं. बड़ी बहन ठाकुरमुनी की शादी हो चुकी है. छोटी बहन रातोली हांसदा अविवाहित है. वह इंटर में पढ़ रही है.

शाम छह बजे साथ में चाय पी

बोड़ाम के ग्राम प्रधान सह परगना सोहन लाल टुडू ने बताया कि बुधवार को मृतक श्रीकांत हांसदा दिन में डिमना रोड के पास साथ में थे. शाम छह बजे साथ में चाय पी थी. इसके बाद वह गांव जाने की बात कहकर निकल गए.

बोड़ाम थाना अंतर्गत पुनसा निवासी लकड़ी मिस्त्री श्रीकांत हांसदा की हत्या अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी है. एके-47 से हत्या होने के कारण पुलिस अब नक्सल एंगल पर भी मामले की जांच कर रही है.

- विमल कुमार, डीएसपी, पटमदा