लखनऊ ले गया, 10 दिन होटल में रखा, कहा-हो गई ट्रेनिंग

By: Inextlive | Publish Date: Fri 21-Apr-2017 07:40:48
A- A+

RANCHI: नेवी मर्चेट में नौकरी दिलाने के नाम पर एक करोड़ की ठगी करनेवाले महेश गुप्ता को कोतवाली पुलिस ने अपनी हिरासत में लिया है। उस पर धनबाद के एक पीडि़त ने एक लाख दस हजार रुपए ठगने का आरोप लगाया है। वह बिहार के नालंदा जिले के पावापुरी का रहनेवाला है। बताया जाता है कि वह मर्चेट नेवी में नौकरी दिलाने के नाम पर बेरोजगार युवकों से पैसे ठगता है। कोतवाली पुलिस उससे पूछताछ कर रही है.

क्या है मामला

इस मामले में पीडि़त धनजीत कुमार ने बताया कि वह धनबाद जिले के भौरां के जोड़ापोखर का रहनेवाला है। क्7 जून को उसने मर्चेट नेवी के लिए फार्म भरा था। इसके बाद जब एडमिट कार्ड आया तो उसका पता हरमू रोड था। जब वह एग्जाम देने आया तो कहा गया कि उसकी जॉब क्00 परसेंट लग जाएगी। इसके बाद उसने धनजीत के पिता अमर नाथ सिंह से एक लाख दस हजार रुपए ऐंठ लिया। फिर, उसे ट्रेनिंग देने के नाम पर लखनऊ ले जाया गया। वहां उसे सिमैती कैंपस नामक एक होटल में दस दिन तक रखा। वहां ख्0 अन्य लड़के भी मौजूद थे। दस दिनों के बाद कहा गया कि ट्रेनिंग पूरी हो गई है। अब वो घर जा सकता हैं। कॉल आने पर सूचित कर दिया जाएगा। इसके बाद सभी लड़के अपने- अपने घर चले गए।

ऐसे धराया जालसाज

जब धनजीत और उसके पिता को फर्जी वाड़े का पता चला तो उनलोगों ने पैसे वापस करने के लिए उसे फोन पर तकादा करना शुरू कर दिया। कहा गया कि जल्द ही प्लेसमेंट हो जाएगा। फिर, गुरुवार को महेश गुप्ता ने धनजीत और उसके पिता को रातू रोड में बुलाया। रातू रोड में कैंडीडेट के बारे में पूछताछ की, जब सच सब सामने आ गया और धनजीत ने पैसे की मांग की तो उसे एक थप्पड़ रशीद दिया। थप्पड़ मारने के बाद जब वहां भीड़ जमा हो गई तो वह भागने लगा। इसी क्रम में शोर मचाया गया तो पुलिस ने उसे पकड़ कर कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया।

.बॉक्स

पुंदाग पुलिस ने भेजा था जेल

जानकारी के मुताबिक, इस जालसाज ने पुंदाग के इलाहीनगर में अपना ऑफिस खोल रखा था। जब वहां ख्0 से ख्भ् लोग तकादा करने आने लगे तो उसने अपना ठिकाना बदल लिया और इस बार हरमू में बीजेपी ऑफिस के पीछे ऑफिस बना लिया था। पुंदाग पुलिस ने पहले भी ठगी के आरोप में उसे जेल भेजा था।

inextlive from Ranchi News Desk