Jamshedpur: ग्रामीणों की सूचना पर शुक्रवार सुबह 11 बजे पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपित को गिरफ्तार कर लिया. वह कुदादा नीचे टोला का रहने वाला है. गिरफ्तारी के बाद जब पुलिस उसे जीप पर ले जाने लगी तो आरोपित की पत्नी जीप के सामने खड़ी हो गई और विरोध करने लगी. किसी तरह पुलिस ने आरोपित की पत्नी को वहां से हटाया.

क्या है पूरा मामला

सुंदरनगर पुलिस को पूछताछ में आरोपित ने बताया कि दस दिन पहले उसका भाई मोगदा सरदार मृतक (साकरो हांसदा) के घर गया था. वहां से जब वह अपने घर वापस लौटा तो अचानक मर गया. उसकने मरने पर उसे शक हुआ कि साकरो ने ही उसपर डायन विद्या कर दिया, जिससे उसका भाई बीमार हो गया और उसकी मौत हो गई. इसलिए वो ये जानने के लिए अपने कुछ साथियों के साथ साकरो हांसदा के घर गया था.

पहले पी ली शराब, फिर बोला हमला

साकरो हांसदा के घर आरोपी ने शराब पी. शराब पीने के बाद साकरो पर उसने डायन विद्या करने का आरोप लगाया तो उससे उसका विवाद हो गया. उसने आक्रोश में घर में रखे मसाला पीसने वाले पत्थर से साकरो हांसदा के सिर पर वार कर दिया. महिला की चीख सुनकर आस-पास के लोग आ गए और उसे पकड़ लिया, जबकि मौके से उसके अन्य साथी भाग निकले. घटना के बाद ग्रामीणों की भीड़ साकरो के घर पर लगी रही.

मुआवजे को लेकर हत्या करने का शक

हत्या आरोपित भले ही यह बयां कर रहा है कि उसने डायन बिसाही के संदेह में साकरो हांसदा की हत्या कर दी, लेकिन हत्या में दूसरा पहलू भी सामने आ रहा है. ग्रामीणों की मानें तो साकरो हांसदा के पति मुदरु हांसदा स्वर्णरेखा परियोजना का लाभुक था. विवाद के कारण केस-मुकदमा चल रहा था. पति की मौत के बाद साकरो केस लड़ रही थी. लाभुक होने के कारण उसे मुआवजा स्वरुप काफी रुपये मिलते.

Crime News inextlive from Crime News Desk