You are here : Home Photogallery

सीय चलत Žयाकुल पुरबासी। होहिं सगुन सुभ मंगल रासी॥

सीय चलत Žयाकुल पुरबासी। होहिं सगुन सुभ मंगल रासी॥

Tue 19-Sep-2017 08:17:31
1
मयूर और कलश नृत्य हुआ जनक मंच पर माता सुनयना और राजा जनक ने सर्वप्रथम आरती की. पुण्य के भागी विश्व ङ्क्षहदू परिषद के संगठन मंत्री मनोज, बृजकिशोर भैया, मुरारी लाल फतेहपुरिया, बृजमोहन बंसल, भूदेव सिंह प्रधान, उत्तम दिवाकर, महेंद्र सिंह, चौ. राजेंद्र सिंह आदि सहित अनेकों अतिथि बने. मंच के दोनों ओर बने झरोखों में मयूर और कलश नृत्य मंच की आभा को और भी आकर्षक बना रहे थे. नृत्य निर्देशक दीपक शर्मा के निर्देशन में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया. जब विदाई की बेला आई तो मिथिलानगरी वासियों के नेत्र सजल हो गए.
2
स्त्री धर्म की दी सीख माता जानकी को विदाई के समय राजा जनक ने स्त्री धर्म की सीख दी. इसके बाद ब्राह्मण- पुरोहित और जनकपुरी महोत्सव समिति के पदाधिकारियों के साथ राजा जनक ने वैदेही को चांदी के रथ में बैठाया सुनील पाराशर और जितेंद्र पाराशर ने अपनी दुलारी को गोद में भर लिया और हर पग पर अपनी हथेलियों को बिछा दिया. बैंड की धुन के बीच मिलनी की रस्म अदा की गई. प्रथम पूज्य गणेश का स्मरण करते हुए जानकी की विदाई यात्रा आरंभ हुई. जानकी के रथ के संग आस्था का सैलाब चला. जनकपुरी में भ्रमण करती हुई सीता जी की विदाई शोभायात्रा सौंठ की मंडी, कैलाश पुरी स्थित समिति के उपाध्यक्ष रमेश वर्मा के निवास पर पहुंची. पदाधिकारियों द्वारा जलपान आदि का प्रबंध यहां किया गया था. देर रात विभिन्न वाहनों के माध्यम से बारात रवाना हुई. इससे पूर्व शाम ढलते ही श्रीराम, लक्ष्मण, भरत, शत्रुघ्न और माता सीता के स्वरूप शोभायात्रा के साथ जनकपुरी क्षेत्र में निकले.
3
शोभायात्रा का मार्ग जैन मंदिर रोड, करकुंज चौराहे से सीधे जनक महल की ओर था. रास्ते में जगह-जगह पुष्पवर्षा और आरती करके स्वरूपों का स्वागत किया गया.
4
आज सजेगा श्याम बाबा का दरबार जनकपुरी महोत्सव के अंतिम दिन मंगलवार को शाम पांच से रात्रि आठ बजे तक जनकपुरी महोत्सव समिति के दानदाताओं, सहयोगियों और कार्यकर्ताओं का स्मृति चिह्न देकर सम्मान किया जाएगा. रात्रि आठ बजे से जनक मंच पर श्री खाटू श्याम भजन संध्या श्री श्याम सेवक परिवार एवं मातंगी गु्रप द्वारा आयोजित की जाएगी. समारोह में जानकी के प्रभु श्रीराम ग्रंथ का विमोचन समिति द्वारा किया जाएगा.
5
श्रीराम की बरात के स्वागत से चहक रही जनकपुरी में सोमवार रात को विरह की घड़ी भी आ गई. वैदेही की विदाई से पूर्व स्वरूपों के दर्शन के लिए आस्था का सागर उमड़ पड़ा. जनकपुरी बनी आवास-विकास कॉलोनी की हर गली से श्रद्धालुओं का रैला सिर्फ भव्य जनकमहल की ओर ही जा रहा था. जानकी की विदाई देख सब सखियों के साथ वहां मौजूद हजारों लोगों की आंखों से भी अश्रु की धारा बह निकली.
6
सीय चलत Žयाकुल पुरबासी। होहिं सगुन सुभ मंगल रासी॥
7
संजय सिंह ने किया स्वागत सेक्टर एक में पूर्व पार्षद कपिल वाजपेयी के निवास पर श्रीराम, सीता समेत सभी स्वरूपों का स्वागत आप पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सिंह ने किया. सेक्टर 11 में महिला समिति की मुख्य संयोजक उर्मिला देवी पूर्व Žलॉक प्रमुख के निवास पर स्वागत किया गया.