You are here : Home Photogallery

प्रवाहमान दिखी नृत्य संगीत की सरिता

राम चरणों के दास बजरंगबली के दरबार में कला साधकों का मेला. तरह-तरह की राग-रागिनियों और तालों का हुआ अनूठा संगम. कोई गायन का माहिर तो कोई वादन का सिद्धहस्त. मंच पर चढ़े तो रचा नृत्य व संगीत का कुछ ऐसा मायाजाल कि हर आंख रही खोयी और हर मन रहा तल्लीन. मौका था छह दिवसीय संकटमोचन संगीत समारोह का.

Fri 29-Apr-2016 12:31:34
प्रवाहमान दिखी नृत्य संगीत की सरिता
1
शास्त्रीय गायक पं. जसराज ने केसरी नंदन का वंदन किया. राग ललित में आलाप से उन्होंने अपने कार्यक्रम की शुरुआत की.
news in hindi
प्रवाहमान दिखी नृत्य संगीत की सरिता
2
मंदिर के एक तरफ बीएचयू और दूसरे यूनिवर्सिटीज के स्टूडेंट्स द्वारा बनाये गये चित्रों की प्रदर्शनी भी खास रही. प्रदर्शनी में बजरंगबली के विविध रूपों का प्रदर्शन किया गया था.
news in hindi
प्रवाहमान दिखी नृत्य संगीत की सरिता
3
पद्मविभूषण पं. हरिप्रसाद चौरसिया ने राग विहाग में बांसुरी पर तान छेड़ी. आलाप लिया और मध्य लय नौ मात्रा में रचना प्रस्तुत कर विभोर कर दिया.
news in hindi
प्रवाहमान दिखी नृत्य संगीत की सरिता
4
संकटमोचन संगीत समारोह में नृत्य व संगीत का कुछ ऐसा मायाजाल कि हर आंख रही खोयी और हर मन रहा तल्लीन.