आगरा: थाना जगदीशपुरा क्षेत्र में साली को साथ रखने पर अड़े जीजा जब अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हुआ, तो एक गैंग के जरिए साले को दुष्कर्म के मामले में फंसवा दिया. पुलिस ने जब मामले की पड़ताल की पूरी साजिश का पर्दाफाश हो गया. इस मामले में पूरा सौदा ढाई लाख रुपये में तय हुआ था.

पत्नी की देखरेख को बुलाया था

थाना जगदीशपुरा निवासी युवक की पत्नी की तबियत खराब थी. उसने अपनी साली को देखरेख के लिए बुला लिया. युवक ने साली को अपने प्रेमजाल में फांस लिया. ढाई महीने तक साली को साथ रखा. वह पत्नी के साथ साली को भी साथ रखने का दबाव बनाने लगा. पत्नी के विरोध पर जीजा को साली से नाता तोड़ना पड़ा. जीजा इससे खुन्नस मान गया. उसने साले के खिलाफ साजिश रच दी. उसने मथुरा निवासी युवक से मुलाकात की. साले को रेप के मामले में फंसाने का प्लान तैयार किया.

पुलिस पड़ताल में खुलासा

रेप में फंसाने वाले गैंग ने ढाई लाख रुपया लिया. इसके बाद साले पर रेप का आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज करा दिया. पुलिस ने जब पड़ताल की तो घटना वाले दिन साला अपने घर पर था. इसके बाद साले ने पूर्व में हुई घटना के बारे में पुलिस को बताया. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई. पुलिस ने मथुरा के रेप में फंसाने वाले गिरोह को पकड़ लिया. पुलिस ने साजिश करने वाले बहनोई, मथुरा निवासी युवक, रेप का आरोप लगाने वाली महिला व उसके पति को पकड़ा. पुलिस ने सभी पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है