-दो मंत्री, 7 विधायक और 1 विधान परिषद अध्यक्ष ने ट्रांसफर रुकवाने के भेजा था लेटर

BAREILLY: एसएसपी जोगेंद्र कुमार का ट्रांसफर रुकने से सभी को आश्चर्य हुआ था. खबर थी कि बीजेपी नेताओं ने उनका ट्रांसफर रुकवाया था, लेकिन इस खबर पर अब मुहर भी लग गई है. क्योंकि बरेली के दोनों मंत्री राजेश अग्रवाल व धर्मपाल सिंह, 7 विधायक डीसी वर्मा, राजेश कुमार मिश्रा, छत्रपाल गंगवार, बहोरनलाल मौर्या, अरुण कुमार, केसर सिंह गंगवार, श्यामविहारी और विधान परिषद सदस्य जगतपाल सिंह व्यस्त ने अपने हस्ताक्षर कर सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था. पत्र में योगेंद्र का ट्रांसफर रोकने और आकाश कुलहरि को बरेली न भेजने की अपील की गई थी.

ईमानदार और कर्मठ हैं एसएसपी

आकाश कुलहरि पहले भी बरेली जिले में रह चुके हैं. आकाश कुलहरि ने अपने कार्यकाल में बीजेपी नेताओं व कार्यकर्ताओं, आरएसएस के कार्यकर्ताओं के खिलाफ फर्जी मुकदमें लिखे थे और उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा था. यही नहीं उनका आचरण सपा के कार्यकर्ताओं के लिए अच्छा रहा था. जबकि जोगेंद्र कुमार एक ईमानदार और कर्मठ अधिकारी हैं. उन्हें इलेक्शन के दौरान बरेली भेजा गया था. उन्होंने अच्छे से इलेक्शन को भी करवाया. बीजेपी नेता और कार्यकर्ता भी उनके काम से खुश हैं .