- हाईकोर्ट की फटकार के बाद तमाम विभाग दिक्कतों को सुधारने में जुटे

- तीन चौराहों में फेरबदल, गोमती बैराज ट्रैफिक के लिये खुला

- चारबाग से एयरपोर्ट तक 15 चौराहों पर जल्द लगेगी ट्रैफिक लाइट

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW :

राजधानी के बदहाल ट्रैफिक सिस्टम को लेकर हाईकोर्ट की फटकार के बाद जाम से निजात दिलाने के लिये कवायद शुरू हो गई है. इसके तहत तीन चौराहों में फेरबदल किया गया है. साथ ही 15 चौराहों पर जल्द ही ट्रैफिक लाइट भी स्थापित कर दी जाएगी. सात फ्लाईओवर्स का काम भी जल्द शुरू होने को है. विभागों की फुर्ती देख संभावना जताई जा रही है कि राजधानी को जल्द ही जाम से निजात मिल सकेगी.

बदलाव से मिली राहत

एसपी ट्रैफिक रविशंकर निम ने बताया कि तेलीबाग स्थित शनि मंदिर चौराहा पर सर्किल काफी बड़ा था, जिससे ट्रैफिक पास होने में दिक्कतें आती थीं. बीते दिनों हुए सर्वे में यह बात निकलकर सामने आई थी कि इस चौराहे को छोटा करने से ट्रैफिक के फ्लो को बढ़ाया जा सकता है. इसी के तहत चौराहे का सर्किल तोड़ दिया गया और वहां पर छोटा ट्रैफिक आईलैंड बना दिया गया है. मोहनलालगंज की ओर जाने वाले ट्रैक पर निर्माणाधीन नहर पुल को भी ट्रैफिक के लिये खोल दिया गया है. जिससे पीक ऑवर्स में ट्रैफिक जाम को काबू करने में मदद मिल सकी है. उन्होंने बताया कि इस चौराहे को जल्द ही ट्रैफिक लाइट से गवर्न किया जाएगा. इसी तरह पॉलीटेक्निक चौराहा के सर्किल को भी छोटा किया गया है. 1090 चौराहे पर राजीव चौक से आने वाले ट्रैफिक को यू-टर्न लेने के लिये लेन बनाई गई है. इस लेन के बन जाने से यू-टर्न के लिये गाडि़यों को समतामूलक चौराहा से घूमकर नहीं आना होगा. इंदिरानगर के कलेवा चौराहे में भी सुधार किये गए हैं.

15 चौराहों पर जल्द ट्रैफिक लाइट

एसपी ट्रैफिक ने बताया कि लखनऊ मेट्रो के निर्माण के चलते चारबाग से एयरपोर्ट के बीच 15 चौराहों पर ट्रैफिक लाइट हटा दी गई थी. इन लाइट्स को फिर से लगाने के लिये नगर निगम ने मंजूरी दे दी है. आगामी 10 दिन में सभी 15 चौराहों पर ट्रैफिक लाइट़्स लगाकर ट्रैफिक को गवर्न करना शुरू कर दिया जाएगा.

मिनी डिवाइडर का काम जोरों पर

लालबत्ती चौराहे से गुलिस्तां कॉलोनी तक डिवाइडर न होने की वजह से गाडि़यां अपनी साइड छोड़ बेतरतीब ढंग से चलती थीं, जिस वजह से वहां पर जाम लगता था. इसी को देखते हुए मिनी डिवाइडर बनाने का काम जोरशोर से शुरू किया गया है. उम्मीद की जा रही है कि यह काम भी अगले 10 दिनों में पूरा जा जाएगा.

गोमती बैराज पर हल्का ट्रैफिक चालू

एसपी ट्रैफिक ने बताया कि गोमती बैराज की सड़क का निर्माण होना बाकी है. लेकिन, यह रोड बंद होने से गांधी सेतु और समता मूलक चौराहे पर भारी ट्रैफिक के चलते जाम लगता था. इसी को देखते हुए फिलहाल हल्के वाहनों के लिये गोमती बैराज को खोल दिया गया है. जिससे गांधी सेतु पर रश में कमी आई है.

लोहिया पथ फुटओवर ब्रिज शुरू

लोहिया पथ पर फन मॉल के सामने हाल ही में निर्मित फुटओवर ब्रिज को भी पब्लिक के लिये खोल दिया गया है. सुरक्षा के लिहाज से इस फुटओवर ब्रिज पर 26 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं.

दो साल में मिलेंगे सात फ्लाईओवर्स

हैवी ट्रैफिक की वजह से लगने वाले जाम से निजात दिलाने के लिये शहर की सात बिजी सड़कों सरोजनीनगर से बंथरा, तेलीबाग से पीजीआई, कमला नेहरू क्रॉसिंग से विक्रम कॉटन मिल, हुसैनगंज महाराणा प्रताप चौराहा से राजेंद्र नगर, टेढ़ी पुलिया से सेक्टर 20 चौराहा और इंजीनियरिंग कॉलेज से आईआईएम तिराहा तक फ्लाईओवर्स बनाने का प्रस्ताव प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार को भेजा है. इन प्रस्तावों को जल्द हरी झंडी मिलने की उम्मीद है और इन पर काम भी शुरू हो सकेगा. उम्मीद की जा रही है कि यह सभी फ्लाईओवर्स 2019 तक पूरे कर लिये जाएंगे.