delete

राज्यपाल से सीखें सादगी और अनुशासन

By: Inextlive | Publish Date: Tue 20-Jun-2017 07:41:12
- +
राज्यपाल से सीखें सादगी और अनुशासन

- बिहार के राज्यपाल का यूपी से है बड़ा नाता

- प्रदेश में खुशी की लहर के बीच राज्यपाल का मोदी को धन्यवाद

PATNA : बिहार का नाम एक बार फिर देश में गौरवान्वित हुआ है। राज्यपाल का एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति के लिए उम्मीदवार बनाया जाना खुशी का पैगाम लेकर आया है। एक तरफ जहां बधाई देने वालों का तांता लगा है वहीं राज्यपाल रामनाथ कोविंद ने पीएम का आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि दलित के लिए ये बड़ा सम्मान है।

- मोदी जी धन्यवाद आपका जो सबसे ऊंचा पद सौंपा

राज्यपाल रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट पर भी उन्हें बधाई दी। जवाब में राज्यपाल ने भी उन्हें धन्यवाद में ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'धन्यवाद आपका जो आपने एक दलित चेहरे को सबसे ऊंचा पद सौंपा है' उम्मीदवार बनाए जाने के कुछ पल बाद ही प्रधानमंत्री ने तीन ट्वीट किए। उन्होंने श्री कोविंद की सराहना करते हुए कहा कि 'रामनाथ कोविंद किसान के पुत्र हैं और साधारण परिवार से आते हैं। उन्होंने अपना पूरा जीवन गरीब और हाशिये पर रहे लोगों के लिए लगा दिया। संविधान को लेकर उनके पास जो ज्ञान है, वह देश को लाभ पहुंचाएगा'

- याद करेगा बिहार का राज्य भवन

बिहार का राज्य भवन रामनाथ कोविंद को हमेशा याद करेगा। वह आए थे यूपी से लेकिन लगते थे खांटी बिहारी। बिहार का राजभवन एक अच्छे राज्यपाल को कभी नहीं भूल पाएगा। वे उत्तर प्रदेश के कानपुर के रहने वाले हैं, लेकिन दो साल से बिहार के स्थायी निवासी हैं।

- ऐसे हैं होने वाले राष्ट्रपति

- बंद गले का प्रिंस कोट है उनकी पहचान

- बंद गले का प्रिंस कोट उनका पसंदीदा पहनावा है

- बीच- बीच में पारंपरिक भारतीय परिधान में भी दिखते हैं

- पटना में कोई बड़ा आयोजन हो, वे व्यक्तिगत रुचि लेकर उसमें शामिल हुए

- जनवरी ख्0क्7 में आयोजित प्रकाशोत्सव में वे कई बार शामिल हुए

- बिहार आकर बिहारी हो गए हैं

- जब जैसा मौका मिलता है बिहार की तारीफ में जुट जाते हैं

- राज्य से बाहर का कई मिलने आ जाता है, तो उसे नालंदा विश्वविद्यालय, बोधगया, राजगीर से लेकर पारंपरिक पर्व छठ पूजा के बारे में विस्तार से बताते हैं

- चाहे गर्मी हो या बरसात वे टहलना नहीं भूलते

- प्रत्येक दिन सुबह पांच बजे उठ जाते हैं और राजभवन के प्रांगण में कम से कम तीन किलोमीटर टहलते हैं

- बाद में लॉन में ही बैठकर ध्यान लगाते हैं

- विपश्यना करना उन्हें पसंद है, विपश्यना से निवृत होते तब तक उनकी धर्मपत्‍‌नी सविता कोविंद नीचे आ जाती हैं और एक बार फिर पति- पत्‍‌नी लॉन का चक्कर लगाते हैं

- बिहार प्रवास के दौरान उन्होंने राजभवन में कई प्रकार के बदलाव कराए

- पेड़- पौधों का भी उन्हें काफी शौक है

- वे भले ही दिल्ली चले जाएंगे और रायसीना हिल्स में निवास करेंगे लेकिन बिहार का राजभवन उन्हें नहीं भूलेगा

- बधाई का तांता

एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनाए जाने पर राज्यपाल रामनाथ कोविंद को भाजपा, ¨हदुस्तानी अवाम मोर्चा, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी, लोक जनशक्ति पार्टी और अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं नें बधाई दी है। प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष एवं हिमाचल प्रदेश के प्रभारी मंगल पाण्डेय ,भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद डॉ.सीपी ठाकुर, ¨हदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री वृषिण पटेल, पूर्व मंत्री मोनाजिर हसन ने बधाई दी है। लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस और रालोसपा के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी, पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने बधाई दी है। भारत सरकार के पूर्व गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद ने राष्ट्रपति पद के एनडीए प्रत्याशी रामनाथ कोविंद को इस पद के लिए सर्वाधिक उपयुक्त और निष्पक्ष व्यक्ति बताया है.

inextlive from Patna News Desk