छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: झारखंड विकास युवा मोर्चा (जेवीएम) ने मंगलवार को जिला शिक्षा अधीक्षक के ऑफिस पर धरना दिया, जिसमें गोर्वमेंट स्कूल के टीचर्स का गृह प्रखंड में स्थानांतरण करने की मांग उठाई. सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक चले धरना के बाद युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष सुमित श्रीवास्तव ने शिक्षा अधीक्षक बांकेबिहारी सिंह को मेमोरंडम सौंपा, जिसमें स्थानांतरण के लिए जारी वरीयता सूची को रद कर वरीयता के आधार पर सूची जारी करने की मांग की.

लिस्ट पर उठाया सवाल

इस दौरान झाविमो के केंद्रीय महासचिव अभय सिंह ने 358 अतिरिक्त पदों पर कार्यरत टीचर्स के ट्रांसफर लिस्ट पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस लिस्ट में 15-20 वर्ष से डुमरिया व अन्य सुदूर क्षेत्रों में कार्य करने वाले टीचर भी हैं, जो एक वर्ष पूर्व ही शहर में पदस्थापित हुए हैं. एक बार फिर इन्हीं टीचर्स का ट्रांसफर करना गलत है. उन्होंने वर्षो से दूरदराज में कार्यरत टीचर्स को गृह प्रखंड में काम करने का मौका देने की मांग की. मेमोरंडम में जमशेदपुर के सभी 110 रिक्त पदों की सूची जारी करने और वरीयता सूची में महिला व पुरुष शिक्षकों में भेदभाव नहीं करने की मांग शामिल है. धरना में झाविमो के जिलाध्यक्ष बबुआ सिंह, उपाध्यक्ष मनोज सरदार, सुनील सिंह, सुमित शर्मा, श्रीकांत सिंह, निरंजन झा, बच्चेलाल भगत, ओमी सिंह, निलेश श्रीवास्तव, रामजी गुप्ता, नरेश कुमार, सुजीत दास समेत करीब 70 कार्यकर्ता शामिल हुए.