रानी ने 'राजा की आएगी बारात' से शुरू किया बॉलीवुड का सफर

By: Inextlive | Publish Date: Tue 21-Mar-2017 10:48:00   |  Modified Date: Tue 21-Mar-2017 10:48:31
A- A+
रानी ने 'राजा की आएगी बारात' से शुरू किया बॉलीवुड का सफर
आज रानी मुखर्जी का जन्‍मदिन है। बॉलीवुड की चंद सफल और प्रभावशाली अभिनेत्रियों में से एक रही रानी मुखर्जी ने फिल्‍मों में काम करना महज इंटीरियर डेकोरेटर बनने के ख्‍वाब को पूरा करने के शुरू किया था। उन्‍होंने सोचा था कि कुछ फिल्‍मों से वो र्कोस पुरा करने लायक पैसा कमा कर फिल्‍में छोड़ देंगी। फिल्‍में तो नहीं पर उस र्कोस का सपना कहीं पीछे छूट गया। आइये जानें रानी की जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें।

 

पिता के साथ की पहली फिल्‍म
रानी मुखर्जी ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत अपने पिता की बंगाली फिल्म 'बियेर फूल (1992)' में एक छोटा किरदार निभाने के साथ की थी।

पिता नहीं चाहते थे एक्‍टिंग में करियर
रानी के फेमिली फ्रेंड सलीम अख्तर ने 'आ गले लग जा (1994)' में उन्हें रोल ऑफर किया था पर उनके पिता ने मना कर दिया था, क्‍योंकि वे नहीं चाहते थे कि उनकी बेटी एक्‍टिंग को बतौर करियर चुनें। बाद में ये रोल उर्मिला मातोंडकर को मिला।

पहली फिल्‍म
रानी की पहली बॉलीवुड फिल्‍म 'राजा की आएगी बारात' थी। हालाकि ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर नाकाम रही, लेकिन वे र्निमाता र्निदेशक आदित्‍य चोपड़ा की निगाह में आ गयीं और उन्‍होंने रानी को करन जौहर की फिल्‍म 'कुछ कुछ होता है' में काम दिलाने की सिफारिश की। करन का मन नहीं था पर उन्‍होंने आदी के कहने पर रानी को मौका दिया और उन्‍होंने टीना के छोटे से रोल में खुद का प्रूव किया।  
'Trapped' वाले राजकुमार राव को 10वीं में पता चल गया था एक्‍टर बनना है

'गुलाम' से मिली शोहरत
लीड रोल में उनको पहली सफलता फिल्म 'गुलाम' से मिली जिसने उन्हें 'खंडाला गर्ल' नाम से फेमस कर दिया। फिल्‍म के 'आती क्या खंडाला' गाने ने लोगों उनका फैन बना दिया।

बदली नाम की स्‍पेलिंग
पहले रानी अपने नाम में मुखर्जी की स्‍पेलिंग कुछ इस तरह लिखती थीं Mukerji, पर बाद में उन्‍होंने Mukherjee लिखना शुरू कर दिया। बहुत से लोग समझते हैं कि ऐसा उन्‍होंने न्‍यूमरोलॉजी के हिसाब से किया है पर ऐसा नहीं है। उनके पास पोर्ट पर उनका नाम Rani Mukherjee लिखा गया था तो उन्‍होंने उसे ही इस्‍तेमाल करना शुरू कर दिया।

छूटा हॉलीवुड का मौका
बहुत कम लोग जानते हैं कि मीरा नायर की फिल्‍म 'नेमसेक' में पहले तब्‍बू वाला रोल उन्‍हें ही ऑफर हुआ था, लेकिन फिल्‍म 'कभी अलविदा ना कहना' में बिजी होने के कारण उन्‍होंने ये रोल छोड़ दिया और बाद में इसे तब्‍बू ने निभाया।
पहले रिजेक्‍ट फिर सेलेक्‍ट इसके बाद तो शाहिद कपूर की निकल पड़ी

'ब्‍लैक' के लिए भी कर दिया था मना
शुरू में रोल के साथ न्‍याय ना कर पाने के डर से रानी ने संजय लीला भंसाली की फिल्‍म 'ब्‍लैक' का शानदार लीड रोल करने से इंकार कर दिया था। बाद में संजय लीला के समझाने पर उन्‍होंने ये भूमिका की और इसके लिए उन्‍हें क्रिटिकल और पब्‍लिक एप्रीसिएशन के साथ बेस्‍ट एक्‍ट्रेस का अवॉर्ड भी मिला। ऐसी कई और फिल्‍मे हैं जो रानी के ना कहने पर दूसरों को मिलीं 'लगान', 'भूलभुलैया', 'वक्‍त द रेसे अगेंस्‍ट टाइम' और 'हे बेबी'।

रानी हैं खास
रानी पहली बॉलीवुड अभिनेत्री हैं जिन्‍हें एक ही साल में दो दो फिल्‍मफेयर पुरस्‍कारों से नवाजा गया। 2005 में उन्‍हें फिल्‍म 'हम तुम' के लिए बेस्‍ट एक्‍ट्रेस और 'युवा' में बेस्‍ट सर्पोटिंग एक्‍ट्रेस का फिल्‍मफेयर पुरस्‍कार दिया गया। जहां 2005 में वे बॉलीवुड के टॉप 10 शक्तिशाली लोगों में इकलौती महिला थीं। वहीं रानी ही एकमात्र बॉलीवुड अभिनेत्री हैं जिसे फिल्मफेयर ने 2004 से 2006 तक लगातार 3 साल बॉलीवुड की टॉप एक्‍ट्रेस घोषित किया। रानी की दो फिल्‍में अकादमी अवॉर्ड के लिए नामांकित हो चुकी हैं। साल 2000 में 'हे राम' और 2005 में 'पहेली' ऑस्‍कर अवॉर्ड के लिए भारत की ऑफीशियल एंट्री थीं।

रानी की कार, यार और प्‍यार
रानी ने अपनी कमाई से पहली कार ओपल अस्‍त्रा खरीदी थी। कोरियोग्राफर वैभवी मर्चेंट रानी सबसे खास दोस्‍त हैं और उन्‍होंने फिल्‍म र्निमाता र्निदेशक आदित्‍य चोपड़ा से लंबे रिलेशनशिप के बाद शादी की है।
पूजा भट्ट की 10 तस्‍वीरें जिन्‍हें देख आलिया जलभुन जाएं

21 के आंकड़े के साथ तीन महीने पार्टी
ट्रेंड ओडिसी डांसर रानी की जिंदगी में 21 तारीख बेहद अहम है। 21 मार्च को उनका जन्‍मदिन होता है, 21 अप्रेल को उन्‍होंने आदित्‍य चोपड़ा से शादी की जिनसे उनकी एक बेटी आदिरा है और 21 मई को आदी चोपड़ा का जन्‍मदिन होता है। यानि आज से शुरू हुआ रानी का जश्‍न अब तीन महीने यानि मई तक चलेगा।

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk