अब रिटायर्ड कर्मचारियों की मदद से रेलवे करेगा ट्रैक की सुरक्षा

By: Inextlive | Publish Date: Thu 14-Sep-2017 04:22:07   |  Modified Date: Thu 14-Sep-2017 04:24:31
A- A+
अब रिटायर्ड कर्मचारियों की मदद से रेलवे करेगा ट्रैक की सुरक्षा
- चेकिंग स्टाफ के कर्मचारियों को दैनिक भत्ते पर रखेगा रेलवे

BAREILLY:

उम्र के एक ऐसे पड़ाव पर जहां लोग रिटायर होकर अपने घर-परिवार में आराम से समय बिताते हैं. वहीं रेलवे के रिटायर्ड कर्मचारी एक बार फिर रेलवे का सहारा बनेंगे. जी हां, नॉर्दर्न रेलवे रिटायर हो चुके स्टॉफ को दैनिक भत्ते पर नौकरी देने की प्लानिंग कर रहा है. नॉर्दर्न रेलवे के मुरादाबाद डिवीजन ने चेकिंग स्टाफ की कमी को देखते हुए यह कदम उठाने जा रहा है. वहीं दूसरी ओर इंटर कॉलेजों में शिक्षकों की कमी को देखते हुए शिक्षा विभाग भी रिटायर्ड शिक्षकों को रखने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

 

रिटायर्ड कर्मचारी

इस भर्ती प्रक्रिया में सिर्फ चेकिंग स्टाफ के रिटायर्ड कर्मचारियों को ही शामिल किया जाएगा. साथ ही ऐसे कर्मचारी भर्ती होंगे जिनकी उम्र म्ख् साल हो. नॉर्दर्न रेलवे के इस कदम से ट्रेनों में बिना टिकट यात्रा करने और चेकिंग में सक्रियता बढ़ जाएगी. इससे रेलवे के राजस्व में भी बढ़ोत्तरी होगी. अधिकारियों की मानें तो डिवीजन में क्क्8 रिटायर्ड चेकिंग स्टॉफ को दैनिक भत्ता दिया जाएगा.

 

दैनिक भत्ता के साथ कमीशन

कर्मचारियों की ड्यूटी ऑटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन के साथ ही मेन गेट, सभी प्लेटफार्म और ट्रेन में भी लगाई जाएगी. एटीवीएम पर सहायक के तौर पर लगाए जाएंगे. ताकि वह यात्रियों की टिकट निकालने में मदद कर सके. जिन्हें टिकट बिक्री करने पर उसका कुछ प्रतिशत कमीशन दिया जाएगा. वहीं कुछ कर्मचारियों को दैनिक भत्ता पर रखा जाएगा. हालांकि, कमीशन और भत्ता कितना मिल सकेगा यह अभी निर्धारित नहीं हुआ है.

 

रिटायर्ड कर्मचारियों को दोबारा से ड्यूटी सौंपने की तैयारी चल रही है. ताकि, जो कर्मचारी काम करना चाहते हैं वह काम कर सके. इससे रेलवे को भी मदद मिलेगी.

चेतन स्वरूप शर्मा, एसएस, बरेली जंक्शन