- सिकंदरा के पॉश एरिया में डॉक्टर दंपत्ति के घर वारदात

- महिला पर तमंचा तान कैश और ज्वैलरी ले गए बदमाश

आगरा. बोदला में ट्रांसपोर्टर के यहां डकैती को अभी 24 घंटे भी नहीं बीते थे कि बदमाशों ने सिकंदरा क्षेत्र में बड़ी वारदात को अंजाम दिया. महर्षिपुरम में दिनदहाड़े घर में घुसे बदमाश महिला पर तमंचा तान कैश और आभूषण ले गए. एसएसपी ने फोर्स के साथ मौके पर पहुंच मामले की छानबीन शुरू कर दी है.

घर में अकेली थीं तनुजा

महर्षिपुरम कोठी नंबर-171 निवासी डॉ. अतुल बंसल पुत्र स्व. मुन्ना लाल अग्रवाल का सेक्टर-7 में जगदम्बा मदर चाइल्ड के नाम से हॉस्पिटल है. पत्नी डॉ. आरुषि बंसल भी हॉस्पिटल में प्रैक्टिस करती हैं. छोटे भाई दीपक अग्रवाल एडवोकेट हैं. उनकी पत्नी तनुजा घर पर ही रहती हैं. अतुल बंसल के एक बेटा व एक बेटी है. दीपक के एक बेटा है. गुरुवार सुबह बच्चे स्कूल चले गए. डॉ. अतुल व उनकी पत्नी सुबह 10:26 बजे पर चले गए. दीपक भी अपने ऑफिस चले गए. घर में मात्र दीपक की पत्नी तनुजा थीं.

डॉक्टर दंपति के बारे में पूछा

सुबह साढ़े 10 बजे बाइक सवार दो लोग घर पर पहुंचे. बाइक बाहर खड़ी कर दोनों घर में घुस गए. उनमें से एक हेलमेट पहने था. दूसरे का मुंह खुला हुआ था. तनुजा मंदिर में पूजा कर रहीं थीं. दोनो अंदर आए बोले कि डॉक्टर साहब हैं क्या. तनुजा ने बोला नहीं हैं. कुछ देर में बाइक सवार दो और बदमाश पहुंचे. ये भी दोनों घर में घुस गए. बदमाश बोले डॉक्टरनी कहां हैं. तनुजा ने फिर वही बोला नहीं हैं. इसके बाद बदमाशों ने पूछा कि सामान कहां है.

मालकिन बनी नौकरानी

इतने में एक बदमाश ने तमंचा निकाल लिया. तनुजा की कनपटी पर रख दिया. तनुजा ने बदमाशों से कहा कि वह यहां पर काम करती है. वह कल ही यहां पर आई है. सामान वह लोग कहां रखते हैं उसे नहीं पता. इस दौरान तीसरा बदमाश दूसरे कमरे में दाखिल हो गया. चौथा बदमाश बैठक में मौजूद था. चार बदमाश घर के अंदर थे. बदमाशों ने तनुजा को बेड पर पटक दिया. बदमाशों ने अलमारी खंगालना शुरू कर दिया.

शोर मचाने पर भाग खड़े हुए

तनुजा ने मौका पाकर घर से बाहर की तरफ दौड़ लगा दी. वह चीखती हुई सड़क की तरफ भागी. ये देख बदमाशों के पैर उखड़ गए. बदमाशों के हाथ जो लगा, वह उठा लिया. एक दम से भागते हुए बाहर आए. बाहर खड़ी बाइक पर सवार होकर भाग निकले.

सीसीटीवी में बदमाश हुए कैद

डॉ. अतुल बंसल के सामने वाली कोठी नंबर 154 में अशोक चौधरी रहते हैं. इनकी कोठी पर सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है. बदमाश आते और जाते हुए सीसीटीवी फुटेज में कैद हैं. बदमाश वहां से सुबह 10:37 बजे निकल गए. बदमाशों की बाइक में एक सीडी डॉन और दूसरी स्टार थी. चार में से तीन बदमाश सफेद शर्ट पहने थे. एक बदमाश काले रंग के कपड़े पहने था उसके हाथ में तमंचा था. बदमाश आराम से तमंचा दिखाते हुए मौके से निकल गए.

पहन रखे थे ग्लब्स

तनुजा दौड़ते हुए अपने पड़ोसी के यहां पर गई. पड़ोसी डंडा लेकर पहुंचे. भीड़ जुट गई, लेकिन बदमाश तब तक भाग चुके थे. पुलिस को सूचना दी गई. एसएसपी दिनेश चंद्र दुबे मय फोर्स के पहुंच गए. फिंगर प्रिंट टीम पहुंची, लेकिन बदमाशों ने ग्लब्स पहने रखा था.

बदमाशों ने की रेकी

डॉ. अतुल बंसल के मुताबिक वह क्लीनिक के साथ घर पर भी पेशेंट देखते हैं. पुलिस का मानना है कि पहले से बदमाशों को इस बात की जानकारी थी कि कौन कब घर से निकलता है. डॉक्टर का भी मानना है कि बदमाशों ने रेकी की है. चूंकि उनके निकलते ही बदमाश दाखिल हुए हैं. माना जा रहा है कि बदमाश पेशेंट बन कर पहले यहां पर आ चुके होंगे.

तनुजा को भी लगा पेशेंट हैं

जब बदमाश अंदर आए, तो एक बार को तनुजा को भी लगा कि पेशेंट हैं. चूंकि एक बदमाश के हाथ में हैंड बैग लगा हुआ था. अंगोछा सिर पर बंधा था. दिखने में वह ग्रामीण लग रहा था. सभी अधेड़ उम्र के थे. उन्हें देख कर कोई अंदाजा नहीं लगा सकता कि वह बदमाश हो सकते हैं. माना जा रहा है कि बदमाशों ने जिन बाइकों का यूज किया है वह चोरी की हो सकती हैं.

स्नेचिंग होना आम बात है

स्थानीय लोगों का कहना था कि एरिया में वारदातों का सिलसिला बढ़ता जा रहा है. एक महीने में यहां पर 8 से 10 बार चेन स्नेचिंग हो चुकी है. अपराधिक तत्व के लोग अक्सर यहां घूमते रहते हैं. पुलिस की गश्त लगातार नहीं होने से यहां बदमाशों के हौसले बुलंद हैं.

पहले भी हो चुकी है घटना

पड़ोसी अशोक चौधरी के बेटे जितेंद्र के मुताबिक आठ महीने पहले उनका परिवार शादी में जा रहा था. उनकी कार सिकंदरा चौराहे पहुंची ही होगी कि पड़ोसियों ने बदमाशों के आने की जानकारी दी. परिवार ने यू टर्न ले लिया. घर पर आकर देखा तो घर का गेट टूटा हुआ था. पड़ोसियों ने बताया कि शोर मचाने पर बदमाश फायरिंग कर भाग गए. उस दौरान सात बदमाश आए थे.