कैमरा ऑन ड्यूटी जवान की लोकेशन भी ट्रेस करेगा

मुख्यालय तक देखी जा सकेगी कैमरे की रिकॉर्डिंग

Meerut. रेलवे अपनी संपत्ति और यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर अपनी प्रोटेक्शन फोर्स को अपडेट करने जा रहा है. इसके तहत अब आपको रेलवे स्टेशन पर तैनात आरपीएफ जवान की वर्दी पर कैमरा लगा दिखेगा. हालांकि अभी इस कैमरे का मुख्यालय स्तर पर प्रयोग किया जा रहा है लेकिन जल्द पूरे प्रदेश में यह व्यवस्था लागू की जा सकती है.

वर्दी पर बॉडीवार्न कैमरा

ट्रेनों में बढ़ रहे अपराध और रेल यात्रियों की ओर से जवानों पर लगाए जा रहे भ्रष्टाचार व बदसलूकी के आरोपों को जांचने और सुधारने के लिए यह कवायद शुरू की जा रही है. वर्दी में लगे बॉडी वार्न कैमरे से स्टेशन पर या खुद आरपीएफ जवान की गतिविधि कैमरे में रिकार्ड होती रहेगी. इस कैमरे की रिकार्डिंग को वाई-फाई के माध्यम से मुख्यालय तक देखा जा सकेगा. यह कैमरा ऑन ड्यूटी जवान की लोकेशन भी ट्रेस करने का काम करेगा.

सिपाही स्तर तक लगेंगे कैमरे

शुरुआती चरण में यह कैमरे केवल प्लेटफार्म, स्टेशन परिसर आदि जगह पर तैनात सिपाही स्तर तक के आरपीएफ जवानों की वर्दी पर लगेंगे. इन कैमरों की रिकार्डिग को रोजाना इंचार्ज स्तर पर चेक किया जाएगा. रिकार्डिग के आधार पर ही लापरवाही पर एक्शन भी लिया जाएगा.

बॉडीवार्न कैमरे की योजना अभी केवल मुख्यालय स्तर पर प्रयोग की गई है.अभी इसको लागू करने की दिशा में कोई फैसला नहीं हुआ है. हालांकि जल्द इस योजना को लागू किया जा सकता है.

जितेंद्र यादव, आरपीएफ प्रभारी