Movie review : सरकार गिर गई

By: Abhishek Tiwari | Publish Date: Fri 12-May-2017 04:42:05
A- A+
Movie review : सरकार गिर गई
नहीं नहीं, हम मोदी जी की सरकार की बात नहीं कर रहे। हम रामगोपाल वर्मा की सरकार की बात कर रहे हैं। ये फिल्म देखने के बाद मैं रामगोपाल वर्मा से सिर्फ इतना कहना चाहूँगा की आप फिजूल की बातों में समय बर्बाद मत कीजिये। किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता की टाइगर श्रॉफ और विद्युत् जामवाल की फाईट में कौन जीतेगा, आप हमारे लिए कुछ बेहतर फिल्में बनाने पे ध्यान दीजिये वरना जितनी इज्ज़त आपने 'रंगीला','सत्य',"कंपनी' और सरकार जैसी फिल्में बनाने में बनायी है वो सब उसी तरह गिर जायेगी जैसे आपकी फिल्में लम्बे समय से बॉक्स ऑफिस पर गिर रही हैं।

कहानी
सरकार अब और बूढ़े हो गए हैं। पर शेर बूढ़ा भी हो जाए तो भी शेर ही रहता है। सरकार का पोता बड़ा हो गया है और सरकार के दुश्मन उनको गद्दी से गिराने के लिए पूरी फिल्म में चालें चलते रहते हैं... यही है इस सरकार की भी कहानी

समीक्षा
गॉडफादर से इंस्पायर होकर बनी सरकार एक बेहद शानदार फिल्म थी। सरकारराज उससे खराब थी, पर फिर भी बुरी नहीं थी। सरकार-3 बस ठीक ठाक है। ये एक अच्छी फिल्म तो नहीं कही जाएगी। न तो ये फिल्म रोचक है, न ही इस फिल्म में ऐसा कुछ नया है जो आपने पिछली सरकार फिल्मों में नहीं देखा। कहानी के लेवल पर भी इसकी कहानी वहीँ अटकी है जहां सरकार की अटकी हुई थी। इस फिल्म की कहानी काफी प्रेडिक्टेबल है और काफी हिस्सों में फिल्म ड्रैग करती है। लम्बे लम्बे सीन्ज़ में आपकी हिम्मत जवाब देने लगेगी। फिल्म में इतने सारे किरदार हैं और सभी किरदार इतने अंडरडेवलप्ड हैं किसी किरदार से आप कनेक्टेड महसूस नहीं करते।

Sarkaar 3
Genre : Drama
Director: Ramgopal Varma
Actors: Amitabh Bacchan, Amit Sadh, Jackie Shroff, Manoj Bajpai

Sarkar 3, Sarkar 3 Movie, Sarkar 3 Movie Review, Movie Sarkar 3, Sarkar 3 release, Sarkar 3 trailer, film Sarkar 3, Sarkar 3 Review

इस फिल्म की एक और बड़ी प्रॉब्लम है इसकी शॉटटेकिंग। अजीब और अतरंगी एंगल से शॉट लेने के चक्कर में फिल्म बड़ी अजीब लगने लगती है, और आपकी आखों को दर्द देने लगती है। फिल्म का पर्श्संगीत इतना लाउड है की आपके सर की नसें फट जाएं। माइग्रेन के मरीज़ उस सिनेमा हॉल से भी दूर रहे जहां ये फिल्म लगी हो।

 



क्यों देखें -
इस फिल्म को देखने का एक मात्र कारण है, खराब स्क्रिप्ट के बावजूद इसके अदाकारों को अभिनय। इस फिल्म में एक से बढ़ कर एक एक्टर्स हैं, जो अपनी काबिलियत के अनुसार इस फिल्म में जान डालने की पूरी कोशिश करते हैं, कुल मिलाकर ये फिल्म अंत में इन्ही किरदारों की शोरील जैसी फील देने लगती है। अमिताभ जी ने पूरी कोशिश की है की अपने अभिनय से हर डिपार्टमेंट की खराब परफोर्मेंस को ढक लें, काफी हद तक वो कामयाब भी हुए हैं। फिल्म की ओवरआल कास्टिंग अच्छी है।

कुल मिलाकर सरकार 3, अपनी पिछली दोनों किश्तों से कहीं निचले दर्जे की है। न तो इसमें कुछ नया है, न ही कुछ इंट्रेस्टिंग। ये एक बेहद एवरेज फिल्म है जिसको न भी बनाया जाता तो किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता... पर अब जब ये बना ली गई है तो भीं इसको भुलाना कोई मुश्किल काम नहीं है। इस फिल्म पर पैसे बर्बाद करने से तो बेहतर है की आप बाहुबली 2 फिर से देख आयें। अब तो टिकेट भी सस्ते हो गए हैं।
जय माहिष्मती

Review by : Yohaann Bhaargava
www.scriptors.in

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk