स्टूडेंट्स के एकाउंट में पहुंचेगी छात्रवृत्ति

By: Inextlive | Publish Date: Thu 12-Oct-2017 07:00:03
A- A+

- छात्रवृत्ति योजनाओं में जांच के कारण चार माह से रोकी गई छात्रवृति

DEHRADUN: समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने विधान सभा स्थित सभागार में समाज कल्याण विभाग की समीक्षा बैठक की। समाज कल्याण मंत्री ने निर्देश दिए कि तमाम योजनाओं के तहत स्टूडेंट्स को मिलने वाली छात्रवृत्ति की धनराशि दीपावली से पहले जिला समाज कल्याण अधिकारियों को अवमुक्त कर दी जाए। जिससे छात्रवृत्ति की धनराशि एक पखवाड़े के भीतर छात्र- छात्राओं के एकाउंट में पहुंच सके।

जिलावार प्रस्ताव देने के निर्देश

बताया गया कि छात्रवृत्ति योजनाओं में घोटाले की वजह से सत्यापन कार्य चल रहा था। जिसके कारण गत ब् माह से छात्रों की छात्रवृत्ति रोकी गई थी। लेकिन पात्र छात्रों की समस्याओं को दृष्टिगत रखते हुए समाज कल्याण मंत्री ने छात्रवृत्ति अवमुक्त करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. वहीं उन्होंने बाबू जगजीवन राम छात्रावास योजना की समीक्षा करते हुए जिला समाज कल्याण अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे इस योजना के तहत जनपदवार प्रस्ताव शीघ्र बनाकर दें। जिससे केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा जा सके। कारण, बाबू जगजीवन राम छात्रावास योजना केन्द्र सरकार सहायतित योजना है। जिसकी शत- प्रतिशत धनराशि केन्द्र के जरिए वहन की जाती है।

भत्ता वृद्धि का तैयार हाेगा प्रस्ताव

बहुउद्देशीय शिविर की समीक्षा पर उन्होंने कहा कि हर जनपद में बहुउद्देशीय शिविरों का आयोजन जिला मुख्यालय की बजाए जिले के दूरस्थ क्षेत्रों में किया जाए। सभी डीएम को निर्देश दिए कि वे बहुउद्देशीय शिविरों के जनपद के दूरस्थ क्षेत्रों में आयोजन पर समाज कल्याण अधिकारी को सहयोग प्रदान करना सुनिश्चित करें। इसके अलावा आश्रम पद्धति विद्यालयों में अनुसूचित जनजाति के छात्र- छात्राओं को मिलने वाले भोजन भत्ते में वृद्धि करने का प्रस्ताव प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। मंत्री ने एसीएस को निर्देश दिए कि जिन जिला समाज कल्याण अधिकारियों ने स्थानान्तरण आदेश जारी होने के बाद संबंधित जिलों में अपनी योगदान आख्या नहीं दी है, उनके खिलाफ एक माह के बाद कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

inextlive from Dehradun News Desk