रात में नशे की दवा देकर बेटी से करता रहा अप्राकृतिक कृत्य

बेटी ने मां से की शिकायत, लेकिन मां ने नहीं बरती गंभीरता

आगरा. थाना जगदीशपुरा में एक कलयुगी पिता का काला चेहरा प्रकाश में आया है. सौतेला पिता बेटी को का शोषण बचपन से ही करता रहा. होश संभालने के बाद जब मां से शिकायत की तो कोई ध्यान नहीं दिया. पीडि़ता ने अंत में चाइल्ड लाइन की शरण ली. चाइल्ड लाइन टीम के साथ बेटी शिकायत लेकर थाने पहुंची और पिता की करतूत के बारे में बताया.

पांच साल की थी बेटी, तब मां ने रचाया दूसरा ब्याह

ताजगंज निवासी महिला का पति से तलाक हो गया. उस दौरान उसकी बेटी पांच साल की थी. महिला ने अलबतिया निवासी चांदी कारीगर से शादी कर ली. बेटी जब दस साल की हुई तो सौतेले पिता की निगाह में बदलाव आ गया. बेटी के मुताबिक दस साल की उम्र से पिता उसके साथ गलत हरकत करता आ रहा है. सौतेला पिता रात में उसे और मां को नशे की गोली देता. जब वह सुबह उठती तो उसे कपड़े अस्त-व्यस्त मिलते. एक बार उसे कपड़ों पर ब्लड मिला. पिता उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य करता रहा. बेटी ने मां से इस बारे में कहा लेकिन उसने ध्यान नहीं दिया.

मां के साथ की मारपीट

पीडि़ता के मुताबिक मां के ध्यान न देने पर पिता खुलेआम छेड़छाड़ करने लगा. वह शराब पीकर घर में आता है. मां ने उसे एक बार पकड़ लिया तो मां की बुरी तरह पिटाई कर दी. अब बेटी की उम्र 17 साल है. उसने पिता द्वारा लम्बे समय से हो रहे शारीरिक शोषण के खिलाफ आवाज बुलंद कर दी. लेकिन उसकी मां ने उसका साथ नहीं दिया. मां यही सोचती रही कि वह पति के बिना क्या करेगी.

चाइल्ड लाइन से की शिकायत

15 अप्रैल को बेटी ने चाइल्ड लाइन हेल्पलाइन पर कॉल किया. चाइल्ड लाइन ने 16 व 17 अप्रैल को उससे संपर्क करना चाहा लेकिन संपर्क नहीं हुआ. मंगलवार को पीडि़ता चाइल्ड लाइन पहुंच गई और अपनी आपबीती सुनाई. इसी के बाद बुधवार को चाइल्ड लाइन ने उसकी मां से बात की उसे समझाया. इसके बाद मां-बेटी थाना जगदीशपुरा आई और आरोपी सौतेले पिता के खिलाफ तहरीर दी. इस दौरान चाइल्ड लाइन के सदस्य साथ थे. कॉर्डीनेटर नरेंद्र परिहार के मुताबिक लड़की को बाल कल्याण समिति के समक्ष भी पेश किया गया था. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है.