मिलिए शरद से
सबसे पहले बता दें कि आखिर शरद हैं कौन। दरअसल शरद एक कंपनी से रिटायर हो चुके मैकेनिकल इंजीनियर हैं। इन्‍होंने एंटी सुसाइड सीलिंग फैन रॉड बनाई है। इस रॉड की खासियत ये है कि इसपर जब कोई लटकने की कोशिश करेगा तो एक निश्‍चित वजन के बाद पंखे की रॉड नीचे आ जाएगी।

पढ़ें इसे भी : करियर से जुड़े कन्फ्यूजन को करें दूर

बनाई ऐसी रॉड
कुल मिलाकर इन्‍होंने एक सामान्‍य रॉड के बजाए एक ऐसी रॉड बनाई है जो दो भागो में है। दरअसल इसके बीच में एक स्‍ट्रॉन्‍ग स्‍प्रिंग फिट है। ये स्‍प्रिंग ऐसे फिट है कि दो टुकड़े मिलकर बिल्‍कुल एक रॉड बन बन गए हैं। इसके बारे में शरद बताते हैं कि आमतौर पर गौर करें तो एक सीलिंग फैन करीब 6 किलो का होता है। इसके अलावा इसमें लगी स्‍प्रिंग इसके तीन गुनी होती है। कुल मिलाकर करीब 18 किलो भार सहन करने की क्षमता रखती है।

पढ़ें इसे भी : आईआईटी सीजन-4 जल्द

ऐसे काम करती है रॉड
अब बात करें इस रॉड की तो ये भी नॉर्मल रॉड की तरह काम करती है। वहीं हां, ये जरूर है कि इसपर अगर 20 किलो से ज्‍यादा वजन पड़ता है तो ये बीच से दो पार्ट्स में बट जाती है। देखते ही देखते फांसी लगाने वाला बंदा नीचे आ जाता है। अब आपके भी मन में ये सवाल उठ रहा होगा कि भला शरद के मन में ऐसा पंखा बनाने का विचार आया कैसे। इसका भी जवाब देते हैं वो।

पढ़ें इसे भी : महारानी की बग्‍घी में सवारी करना चाहते हैं अमेरिकी प्रेसिडेंट ट्रंप

शरद बताते हैं
शरद बताते हैं कि 2004 में उन्‍होंने मॉडल नफीसा जोसेफ की पंखे से लटककर सुसाइड की खबर पढ़ी थी। उस समय से वह सोच रहे थे कुछ ऐसा करने के बारे में। कुछ ऐसा इजाद करने के बारे में जिससे वह लोगों के ऐसे कदम को नाकाम कर सकें। उस दिन से लगे हुए थे वह एंटी सुसाइड फैन का अविष्‍कार करने में, जो अब बनकर पूरा हुआ है।

National News inextlive from India News Desk

     

National News inextlive from India News Desk