आपका सोने का अंदाज बता देगा कैसा है आपका मिजाज

By: Inextlive | Publish Date: Sat 14-Jan-2017 04:45:00
A- A+
आपका सोने का अंदाज बता देगा कैसा है आपका मिजाज
आपका हर अंदाज आपके व्‍यक्‍तित्‍व की कई परतें खोल कर सकता है, बस उसे समझने वाला होना चाहिए। आपका चलना फिरना, उठना, बैठना ही नहीं आपके सोने का तरीका भी बता देता है आपके व्‍यक्‍तिव के कई राज। आज हमको बता रहे हैं कि कैसे आपके सोने की पोजीशन आपकी पर्सेनेलिटी को साफ जाहिर कर देती है।

एक करवट से सोने वाले: कुछ लोग एक खास दिशा में करवट लेकर सोते हैं और अपनी दोनों बाहें सामने की ओर फैला कर रखते हैं। ऐसे लोग शौकीन स्वभाव के और ओपन माइंडेड होते हैं।  हालाकि अगर उनको किसी पर शक हो जाता है तो फिर वो आसानी से नहीं जाता। 

पेट के बल सोने वाले: जो लोग पेट के बल सोते समय अपने हाथ सर पर या कानों पर रख लेते हैं, वे काफी संवेदनशील और नर्म स्वभाव के होते हैं। हालाकि वे जाहिर खुद को सख्‍त और बोल्ड करते हैं।
नाक का सवाल! नाक के आकार खोलते हैं आपके ये राज

चम्‍मच की तरह सोने वाले कपल्‍स: जब कोई कपल एक दूसरे से चिपटकर उसे पुचकारने की पोजीशन में सोता है तो इसे स्पून स्‍लीपिंग पोजीशन कहा जाता है। जाहिर ऐसे लोग बेहद रोमांटिक और लविंग होते हैं।

तकिए से लिपट कर सोना: तकिए से चिपक कर सोने वाले लोग प्‍यारे और दूसरों के लिए केयरिंग होते हैं। वो सामने वालों से भी ऐसे ही व्‍यवहार की उम्‍मीद रखते हैं। ये वफादार मित्र होते हैं और दिल से अच्‍छे होते हैं।
गुलाब का हर रंग कुछ कहता है

पीठ के बल चित्‍त सोना: पीठ के बल सीधे लेट कर सोना सबसे सही तरीका है। ऐसा करने से आपकी रीढ़ की हड्डी पर जोर कम पड़ता है। जो लोग सीधे ऊपर की ओर चेहरा करके सोते हैं वो रिजर्व नेचर के होते हैं। इंट्रोवर्ट होने के कारण वो सिर्फ उन्‍ही से बात करते हैं जिनके साथ कंफर्टटेबल महसूस करते हैं। ये बेहद कान्‍फीडेंट और थोड़े ईगोइस्‍ट होते हैं।

पढ़ते हुए सोना: जो लोग पढ़ते-पढ़ते सो जाते हैं वो जीवन में शांति की तलाश में होते हैं। ऐसे लोग अपनी प्राब्‍लम्‍स को इग्‍नोर करने के लिए किताबों का सहारा लेते हैं।
अगर आपकी लंबाई कम है तो यूं दिखेंगी हॉट एंड स्‍मार्ट

पेट और घुटनों को जोड़ कर सोना: जो लोग पेट और घुटनों को जोड़ कर किसी भ्रूण की तरह सोते हैं अपने को बेहद मजबूत दिखाते हैं पर वास्‍तव में बेहद शर्मीले और संवेदनशील होते हैं। ऐसे लोग किसी भी समस्‍या को लेकर जरूरत से ज्‍यादा सोचते और परेशान होते हैं।