भगवान टॉकीज से तीन तो सिकंदरा से एक गुर्गा पकड़ा

रामबाग, धाकरान, बिजलीघर पर भी होगी कार्रवाई

आगरा. चौराहों पर वसूली करने वालों पर पुलिस ने सख्ती बरतना शुरू कर दी है. एसपी सिटी ने खुद भगवान टॉकीज पहुंच कर वसूली कर रहे गुर्गों को पकड़ा.

चौराहों पर रहता है कब्जा

चौराहों के ठेके के नाम पर ठेकेदारों के गुर्गो ने आतंक मचा रखा है. ऑटो आदि वाहनों से रुपये वसूल किए जाते हैं. रुपये न देने पर मारपीट तक कर दी जाती है. ठेकेदार के गुर्गे हाथ में डंडा लेकर चौराहों पर दहशत फैला कर रखते हैं. ऑटो में डंडे मारना चौराहों पर आम बात है.

मौके पर जाकर की कार्रवाई

मंगलवार दोपहर एसपी सिटी कुंवर अनुपम सिंह, एएसपी रवीना त्यागी, प्रशिक्षु एएसपी इला मारन पुलिस टीम के साथ भगवान टॉकीज चौराहे पर पहुंचे. अधिकारियों ने यहां पर गुर्गो को वसूली करते हुए देखा. एसपी सिटी के निर्देश पर पुलिस ने गुर्गो के पीछे दौड़ लगा दी. पुलिस ने दौड़ लगाते तीन गुर्गे दबोच लिए.

सिकंदरा से एक और गुर्गा दबोचा

तीनों को पुलिस थाना सिकंदरा ले गई. यहां पर पूछताछ में निकल कर आया कि सिकंदरा में भी वसूली चल रही है. एसपी सिटी ने थाना सिकंदरा को कार्रवाई के लिए निर्देशित किया. पुलिस ने चौराहे पर जाकर गुर्गे को रंगे हाथ पकड़ लिया. पुलिस गुर्गो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर रही है.

अन्य चौराहों पर भी होगी कार्रवाई

वाहनों से वसूली करने वाले ठेकेदारों का आतंक मात्र भगवान टॉकीज पर ही नहीं है. सिटी में अधिकतर स्थानों पर इनका आतंक है. रामबाग, बिजलीघर, धाकरान आदि में भी इनका आतंक बना हुआ है. एसपी सिटी के मुताबिक जिन भी चौराहों पर वसूली का खेल चल रहा है वहां पर पुलिस कार्रवाई करेगी. एसपी सिटी के मुताबिक सूचना मिली थी कि यहां पर लोग डंडे के बल पर ऑटो से 100 और बसों से 150 रुपये तक वसूलते हैं.

थाने की जिम्मेदारी होगी तय

एसपी सिटी के मुताबिक यदि थाने की नाक के नीचे यह काम चल रहा है तो वह भी कार्रवाई की जद में आएंगे. सभी थाना क्षेत्रों को निर्देशित किया गया है कि कहीं भी अवैध वसूली का काम न हो. इंस्पेक्टर थाना न्यू आगरा अनूप सिंह के मुताबिक पकड़े गए आरोपियों के नाम राजू आलम पुत्र अब्दुल रहमान निवासी गायत्री विहार, बाईपुर रोड, सिकंदरा, सोनू पंडित पुत्र राममूर्ति उपाध्याय निवासी गायत्री विहार, संजय सिंह पुत्र जितेंद्र कुमार निवासी नगला रामगढ़, एत्मादउद्दौला व फरार आरोपियों में सुरेश व दिनेश हैं. सभी के खिलाफ चौथ वसूली का मुकदमा दर्ज किया गया है.