586

सूबे में राजकीय इंटर कालेज व राजकीय बालिका इंटर कालेज की कुल संख्या

79

प्रिंसिपल विभिन्न स्कूलों में हैं तैनात

507

राजकीय इंटर कालेज व राजकीय बालिका इंटर कालेज में तैनात हैं प्रभारी प्रिंसिपल

1485

हाईस्कूल स्तर के स्कूलों में कुल प्रिंसिपल के पदों की संख्या

900

हाईस्कूल स्तर के स्कूलों में तैनात हैं प्रभारी प्रिंसिपल

225

एलटी ग्रेड शिक्षक बिना प्रमोशन के रिटायर होने को हुए मजबूर

2009 से राजकीय विद्यालयों में एलटी ग्रेड टीचर्स का प्रमोशन नहीं

लगातार डिमांड के बावजूद कई टीचर्स प्रमोशन के पहले रिटायर

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: राजकीय इंटर कालेजों में एलटी ग्रेड शिक्षकों को सालों से प्रमोशन का इंतजार है. एलटी ग्रेड शिक्षकों की तरफ से लगातार प्रमोशन की डिमांड के बावजूद कई टीचर्स बगैर प्रमोशन के ही रिटायर हो गए. राजकीय इंटर कालेजों में 2009 से एलटी ग्रेड शिक्षकों का प्रमोशन नहीं हुआ है.

प्रभारियों के सहारे चल रहे स्कूल

राजकीय इंटर कालेजों में एलटी ग्रेड शिक्षकों का प्रमोशन अटकने के कारण प्रिंसिपल के पद भी खाली पड़े हैं. ऐसे में कई राजकीय इंटर कालेज प्रभारी प्रिंसिपल्स के भरोसे चल रहे हैं. प्रदेश में हाई स्कूल स्तर के 1485 स्कूल हैं. इनमें प्रिंसिपल्स के 900 पद खाली हैं. इसका असर राजकीय स्कूलों में शिक्षण कार्यो पर पड़ रहा है. राजकीय शिक्षक संघ के प्रदेश महामंत्री रविभूषण कहते हैं कि लगातार संघ की तरफ से प्रमोशन की डिमांड की जा रही है. इसके बाद भी सरकार की तरफ से कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है.

पदोन्नति के मामले में विभाग फेल है. माध्यमिक शिक्षा विभाग पर सरकार का नियंत्रण नहीं है. एलटी पुरुष की पदोन्नति 2009 से नहीं की गई है. अर्हता के बाद भी प्रत्येक वर्ष बड़ी संख्या में एलटी ग्रेड शिक्षक बिना प्रमोशन रिटायर हो रहे हैं. इससे उनको पद के साथ ही आर्थिक नुकसान भी हो रहा है.

डॉ. रवि भूषण

प्रदेश महामंत्री

राजकीय शिक्षक संघ, उत्तर प्रदेश