आगरा: मलपुरा के ककुआ में नौवीं के छात्र की हत्या दसवीं में पढ़ने वाले दोस्त ने की थी. 40 रुपये लेने के बाद चिप देने के बहाने उसे अकेले में बुला लिया. पुलिस का दावा है कि उसने ही गला घोंटकर छात्र को मार डाला. पुलिस ने घटना के तीन दिन बाद आरोपी को गिरफ्तार कर घटना का पर्दाफाश कर दिया. उससे मृत छात्र का मोबाइल भी बरामद कर लिया है.

ककुआ निवासी सलीम के 16 वर्षीय बेटे आसिफ की दो फरवरी को हत्या कर दी गई थी. उसका शव घर से एक किमी दूर भाहई नाले के पास सरसों के खेत में पड़ा मिला था. इस मामले में पुलिस ने गांव में ही रहने वाला साढ़े सत्रह वर्षीय नाबालिग को हिरासत में ले लिया. उससे पूछताछ में हत्याकांड का पर्दाफाश हो गया. एसपी पश्चिम अखिलेश नरायण सिंह ने पत्रकार वार्ता में बताया कि आरोपी नाबालिग दसवीं में पढ़ता था. कुछ दिन पहले उसने आसिफ को मोबाइल की आठ जीबी की चिप 100 रुपये में देने का सौदा किया था. आसिफ से 40 रुपये लेने के बाद भी उसने चिप नहीं दी. इसको लेकर हत्या से दो दिन पहले आसिफ की उससे बाजार में तकरार हो गई. उसने आरोपी से कहा था कि या तो चिप दे दो नहीं तो रुपये वापस कर दो.

दो फरवरी को सुबह सात बजे भी उसने फोन कर यही कहा. तभी उसने आसिफ की हत्या की योजना बना ली. आरोपी छात्र ने उससे स्कूल न जाने को कहा था, लेकिन आसिफ स्कूल चला गया. दिन में तीन बार अन्य लोगों के मोबाइल से उसने आसिफ को कॉल किया. उसने कहा था कि स्कूल से लौटते ही आ जाऊंगा. शाम को उसने साइकिल की दुकान पर जाकर वहां खड़े एक युवक से उसका मोबाइल बात करने को लिया, जिससे वह पकड़ में न आ सके. उसके मोबाइल से आसिफ को कॉल कर भाहई नाले पर चिप लेने को बुलाया. आसिफ वहां पहुंचा तो वह पहले से ही मौजूद था. बातों में लगाकर उसने अचानक उसका गला पकड़ लिया और तब तक दबाए रहा, जब तक वह बेसुध नहीं हो गया. उसके खेत में गिरने के बाद आरोपी ने स्कूल बेल्ट निकाली और गले से कस दी. आसिफ की मौत की पुष्टि करने के बाद वह वहां से चला. उसका मोबाइल खेत में ही दूर फेंक दिया. पुलिस हिरासत में आने के बाद उसने घटना कबूल ली. उसकी निशानदेही पर खेत में पड़ा आसिफ का मोबाइल भी बरामद कर लिया है.

Crime News inextlive from Crime News Desk