-सीयूएसबी में फिल्म प्रोडक्शन पर वर्कशॉप आर्गनाइज

PATNA: फिल्म बनाना, इसके प्रोडक्शन और विभिन्न आयामों के बारे में छात्रों के बीच लोकप्रियता बढ़ रही है. लेकिन जब तक इसका व्यवहारिक अनुभव नहीं मिले तब तक वे बेहतर प्रोफेशनल नहीं बन सकते हैं. इसी सोच के साथ सोमवार को सीयूएसबी के कम्यूनिकेशन एंड मीडिया विभाग की ओर से फिल्म प्रोडक्शन पर वर्कशॉप का आयोजन किया गया. इस वर्कशॉप के दौरान छात्रों को फिल्म प्रोडक्शन की बारीकियों से एक्सपर्ट ने छात्रों को रू-ब-रू कराया. गेस्ट के तौर पर सिनेमेटोग्राफर और असिस्टेंट प्रोफेसर इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी तथा विवेकानंद संस्थान के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. सुनील मिश्रा मौजूद थे.

पूरी प्रक्रिया को समझा

प्रथम सत्र में डॉ. अंकित शर्मा ने फिल्म प्रोडक्सन से संबंधित विभिन्न आयामों पर छात्रों के साथ अपने विचार साझा किए. उन्होंने फिल्म से संबंधित तकनीकों में कैमरा शॉट, विजुअल ग्रफिक्स, टेक्सट और स?जेक्ट से संबंधित विभिन्न तकनीक की चर्चा की. उन्होंने फिल्म बनाने की प्रक्रिया के शुरू होने से लेकर अंत के विभिन्न चरणों पर प्रकाश डालते हुए छात्रों के सामने फिल्म बनने की कला को प्रस्तुत किया.

डिजिटल फोटोग्राफी

डिजिटल फोटोग्राफी भी सीखी वर्कशॉप लेक्चर के दौरान अंकित शर्मा शर्मा ने फिल्म को बनाने में तकनीकी भाग के महत्वपूर्ण तथ्यों पर चर्चा की. उन्होंने कहा कि फिल्म की निर्माण करने के लिए सबसे पहले आइडिया की जरूरत पड़ती है. इसके बाद वर्कशाप के दूसरे सत्र में डॉ. सुनील मिश्रा ने डिजिटल फोटोग्राफी के तकनीकों के बारे में बताया. साथ ही उन्होंने कैमरा की तकनीकी ज्ञान और इसके इस्तेमाल करने की तकनीक को छात्रों के साथ साझा किया. छात्रों को बताया कि चित्र लेते समय सामयिक होना जरूरी है. अंत में डॉ आतिश पराशर ने धन्यवाद ज्ञापन किया. इस अवसर पर कई छात्र- छात्राएं लाभान्वित हुए.