गया सुपरस्टार्स का ज़माना: अक्षय कुमार

By: Inextlive | Publish Date: Mon 30-Sep-2013 03:52:23

बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार महसूस करते हैं कि मौजूदा दौर सुपरस्टार्स का नहीं है. और फ़िल्में अब स्टारपावर की वजह से नहीं चलतीं.


गया सुपरस्टार्स का ज़माना: अक्षय कुमार

अपनी आने वाली फ़िल्म 'बॉस' के प्रमोशन पर  अक्षय कुमार ने कहा, "किसी फ़िल्म से कोई बड़ा स्टार जुड़ा है सिर्फ इस वजह से उसके हिट होने की कोई गारंटी नहीं है. फ़िल्म अच्छी होगी तभी चलेगी. फ़िल्म की कहानी उसकी विषय वस्तु में दम होना ज़रूरी है. कई बड़े स्टार्स की फ़िल्में भी तो अब नहीं चलतीं."

अक्षय मानते हैं कि सितारों का वर्गीकरण नहीं होना चाहिए. वो कहते हैं, "कोई भी कलाकार आज के दौर में छोटा नहीं है. सब कुछ स्क्रिप्ट पर निर्भर करता है. कई नए कलाकार बढ़िया काम कर रहे हैं."

'बॉस'

अक्षय की नई फ़िल्म 'बॉस' एक एक्शन फ़िल्म है जिसके निर्देशक हैं एंथनी डीसूज़ा.

'बॉस' मलयालम फ़िल्म 'पोकरी राजा' का रीमेक है.

अक्षय कुमार ने बताया कि फ़िल्म उन्हें बहुत पसंद आई इस वजह से उन्होंने इसका रीमेक बनाने का फ़ैसला किया. अक्षय ने दावा किया कि फ़िल्म में कॉमेडी और ज़बरदस्त एक्शन है.

फ़िल्म में शिव पंडित और अदिति राव हैदरी की भी मुख्य भूमिका है.

अक्षय के करियर के लिहाज़ से फ़िल्म अहम है क्योंकि उनकी पिछली फ़िल्म 'वंस अपॉन अ टाइम इन मुंबई-दोबारा' फ़्लॉप हो गई थी जबकि अक्षय के प्रतिद्वंद्वी शाहरुख़ ख़ान की फ़िल्म 'चेन्नई एक्सप्रेस' इससे एक हफ़्ते पहले रिलीज़ हुई थी और इसने बॉक्स ऑफ़िस पर कमाई का नया इतिहास रच दिया था.

लीडिंग लेडी

फ़िल्म की लीडिंग लेडी  अदिति राव हैदरी कहती हैं कि वो अक्षय जैसे स्टार के साथ फ़िल्म करने को लेकर बहुत उत्साहित हैं.

अदिति के मुताबिक़, "जब मैं अक्षय से मिली तो उन्हें लगा कि मैं सीधी-सादी लड़की हूं. लेकिन जब उन्होंने मेरा फ़ोटो शूट देखा तब उन्हें समझ आया कि मैं काफ़ी  ग्लैमरस लड़की हूं. अक्षय को मैं काफ़ी मेहनती और टैलेंटेड लगी."

हालांकि फ़िल्म में अदिति की जोड़ी अक्षय के साथ नहीं बल्कि शिव पंडित के साथ होगी. अदिति इससे पहले 'रॉकस्टार', 'लंदन पेरिस न्यूयॉर्क', 'रॉकस्टार' और 'मर्डर 3' जैसी फ़िल्में कर चुकी हैं.

'बॉस', 16 अक्टूबर को रिलीज़ हो रही है.

स्‍मार्टफोन पर ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें inextlive का मोबाइल ऐप या
comments powered by Disqus