मिसाइलों को किया नष्ट
सीरिया में वायु सेना ने उसके दो एयर बेस में प्रवेश करने वाली मिसाइलों को नष्ट कर दिया है। पहला हमला सीरिया के होम्स प्रांत में स्थित उसके एयर बेस पर किया गया, जिसमें प्रवेश करने वाली मिसाइलों को वायु सेना ने मार गिराया. इसके बाद दूसरा हमला दमिश्क के पूर्वोत्तर के ड्यूमायर सैन्य हवाई अड्डे पर किया गया, और इसे भी सेना ने नष्ट कर दिया. हालांकि इस मामले से जुड़ी अधिक जानकारी अभी तक नहीं है। इसके अलावा यह हमला कहां से और किसने किया है, इसके बारे में भी फिलहाल पता नहीं चल पाया है।

अमरीका ने नहीं किया हमला
बता दें कि स्थानीय टेलीविजन ने ड्यूमायर एयर बेस पर हमला करने वाली तीन मिसाइलों का जिक्र नहीं किया है, लेकिन ईरान के हिजबुल्ला की रिपोर्ट के अनुसार, सीरिया के एयर डिफेन्स ने उन मिसाइलों का आसानी से सामना कर उन्हें ध्वस्त कर दिया। विपक्षी सूत्रों का कहना है कि ड्यूमायर एयर बेस का इस्तेमाल सीरिया की सेना द्वारा एक बड़े पैमाने पर सैन्य अभियान में किया जाता है, इसलिए इस जगह को निशाना बनाया गया। इस हमले को लेकर अमरीकी पेंटागन के एक प्रवक्ता ने कहा कि इस समय उस क्षेत्र में अमरीका की सैनिकों द्वारा वहां कोई हमला नहीं किया गया है। मिसाइल हमले के बारे में पूछे जाने पर, एक इजरायल के सैन्य प्रवक्ता ने कहा कि हमें इस तरह की घटना की कोई जानकारी नहीं है।"

ये है पिछला मामला
गौरतलब है कि शनिवार को अमेरिका, ब्रि‍टेन और फ्रांस ने संयुक्त रूप से सीरिया की राजधानी दमिश्क पर हमला किया। इस हमले का मकसद सीरियाई रासायनिक हथियारों को खत्‍म करना था ताकि इसका इस्‍तेमाल भविष्‍य में न किया जा सके। इस हमले के बाद रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने चेतावनी दे दी। उन्होंने कहा कि अगर पश्चिमी देशों ने सीरिया पर दोबारा हमला किया तो विश्व के मामलों में बवाल मच जाएगा।

International News inextlive from World News Desk