-अलीगंज स्थित कौशल ज्वैलर्स और अपोलो फार्मेसी में लूट का खुलासा

-दो लुटेरे और दो सर्राफ अरेस्ट, लूटी गई ज्वैलरी, पिस्टल, तमंचा, मोबाइल व कार बरामद

-तीन बदमाश अब भी फरार, तलाश जारी

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW :

अलीगंज पुलिस ने कौशल ज्वैलर्स व अपोलो फॉर्मेसी में हुई लूट का खुलासा करते हुए दो बदमाशों व दो सर्राफ को अरेस्ट किया है. गिरफ्त में आए लुटेरों के सरगना दानिश खान ने अलीगंज इलाके में ही किराये का मकान ले रखा था. वह खुद रेकी करता और लुटेरों को बुलाकर टास्क देकर वारदात को अंजाम दिलाता था. पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से लूटे गए 5 हजार रुपये, 15.22 ग्राम सोना, स्मैक, एक पिस्टल, एक तमंचा, तीन मोबाइल फोन और एक कार बरामद की है. वारदात में शामिल तीन बदमाश अब भी फरार हैं, जिनकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है.

इन वारदातों को दिया अंजाम

बीती 30 दिसंबर की रात बाइक सवार बदमाशों ने महानगर के छन्नीलाल चौराहे पर स्थित अपोलो फॉर्मेसी में घुसकर 50 रुपये लूट लिये थे. विरोध करने पर बदमाशों ने दुकान के मैनेजर पर तमंचे की बट से वार कर उसको घायल कर दिया था. इस सनसनीखेज वारदात के महज छह दिन बाद बदमाशों ने 5 जनवरी को दिनदहाड़े अलीगंज स्थित किशोर ज्वैलर्स शोरूम में घुसकर लूटपाट की थी. बदमाश सर्राफ के यहां से सोने व चांदी की ज्वैलरी लूट ले गए थे. यहां भी बदमाशों ने विरोध करने पर शोरूम संचालक विशाल सोनी पर तमंचे की बट से वारकर उन्हें घायल कर दिया था और मौके से फरार हो गए.

दबिश देकर चार को दबोचा

एसएसपी दीपक कुमार के मुताबिक, दोनों वारदातों के खुलासे के लिये अलीगंज व महानगर पुलिस को जुटाया गया था. किशोर ज्वैलर्स में हुई लूट की घटना का सीसीटीवी फुटेज पुलिस के पास मौजूद था. सर्विलांस और मुखबिर की मदद से पुलिस को जानकारी मिली कि वारदात में प्रतापगढ़ निवासी बदमाश शामिल हैं. बीती रात अलीगंज पुलिस को सूचना मिली कि दोनों वारदात में शामिल बदमाश और लूट का माल खरीदने वाले सर्राफ अलीगंज के रिंग रोड स्थित आकिलपुर गांव के पास मौजूद हैं. हरकत में आई पुलिस ने वहां दबिश देकर चार लोगों को दबोच लिया.

फरार बदमाशों के भी नाम बताए

पकड़े जाने पर उनकी शिनाख्त गैंग सरगना प्रतापगढ़ निवासी दानिश खान, तरुण शुक्ला जबकि दो सर्राफ प्रतापगढ़ निवासी यश कौशल व राकेश सोनी बताया. पुलिस ने उसके कब्जे से 5 हजार रुपये, एक तमंचा, एक पिस्टल, 15.22 ग्राम सोने की ज्वैलरी, तीन मोबाइल फोन, स्मैक व इंडिका कार बरामद की. पूछताछ में दानिश ने दोनों लूट की वारदात को अंजाम देना कुबूल किया. उसने बताया कि वारदात में उसके साथ तरुण के अलावा प्रतापगढ़ निवासी मुन्ना मिश्रा, अलीगंज निवासी शाहरुख खान और सिद्धार्थनगर निवासी सोनू शामिल थे. अब पुलिस फरार बदमाशों की तलाश में जुट गई है.

सीएनजी पंप के मुंशी को लूटने की फिराक में थे

एसपी ट्रांसगोमती हरेंद्र कुमार के मुताबिक, बदमाशों ने पूछताछ में बताया कि कौशल ज्वैलर्स और अपोलो फॉर्मेसी में उन्होंने जितने माल की उम्मीद की थी, उतना माल मिल न सका. नतीजतन, उन्होंने तीसरी लूट की वारदात को अंजाम देने की योजना बनाई थी. उन्होंने बताया कि इस बार वे लोग रिंग रोड सीएनजी पंप के मुंशी को लूटने की फिराक में थे. इस पंप पर एक बुजुर्ग मुंशी है, जो रकम जमा करने अकेले ही बैंक जाता है. बदमाश उस मुंशी की रेकी भी कर चुके थे.

बहन की शादी के लिये बना लुटेरा

एसएचओ अलीगंज के मुताबिक, अब तक की छानबीन में पता चला है कि वारदात में शामिल सभी लुटेरे शाहखर्ची के लिये वारदात को अंजाम देते थे. पर, इनमें से तरुण ने पुलिस को बताया कि उसकी बहन शादी लायक हो गई है. उसकी शादी के लिये उसके पास रुपये नहीं थे. यही वजह है कि उसने लूट के जरिए शादी की रकम जुटाने की सोची और दानिश के गैंग में शामिल हो गया.