नया मोबाइल सिम लेते समय इन 10 बातों का हमेशा रखिए ध्‍यान, वर्ना हो सकते हैं परेशान

By: Inextlive | Publish Date: Fri 30-Jun-2017 02:35:19   |  Modified Date: Fri 30-Jun-2017 02:35:29
A- A+
नया मोबाइल सिम लेते समय इन 10 बातों का हमेशा रखिए ध्‍यान, वर्ना हो सकते हैं परेशान
ड्यूल सिम फोन के जमाने में आजकल हर किसी के पास एक से ज्‍यादा सिमकार्ड होना आम बात है। लोग कई कई सिम तो यूज करते हैं, लेकिन उसे खरीदते समय कई बार वो ऐसी गलती कर देते हैं, जिसके कारण उन्‍हें परेशान होना पड़ता है। तो आइए एक्‍सपर्ट से जानें वो 10 बातें जो सिम खरीदते समय हमेशा ध्‍यान रखनी चाहिए।

1: सिम डॉक्‍यूमेंट पर पर्पज लिखकर करें साइन
सिम खरीदते समय आईडी और एड्रेस प्रूफ की फोटोकॉपी दुकानदार या एजेंट को ऐसे ही न दें, बल्‍कि उस पर (केवल सिम खरीदने के लिए) लिखकर नीचे साइन कर दें। इससे आपके डॉक्‍यूमेंट का कभी भी मिसयूज नहीं हो पाएगा। क्‍योंकि उसकी दूसरी फोटोकॉपी कराके कोई उस पर दूसरा सिम नहीं ले पाएगा।

 

2: अगर सिमकार्ड का पैकेट पहले से खुला हो, तो ऐसा सिम कभी न खरीदें, क्‍योंकि ऐसा सिम पहले से एक्‍टीवेट किया हुआ हो सकता है। हमेशा अपने सामने ही सील्‍ड पैक खुलवाकर सिम खरीदें।

 

3: अगर दुकानदार या एजेंट कह रहा हो कि आप वो सिम तुरंत ही यूज कर पाएंगे यानि कि आपको वेरीफिकेशन के लिए कस्‍मटरकेयर को कॉल करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। तो जान लीजिए कि कुछ न कुछ गड़बड़ है और सिमपहले से किसी और के नाम पर एक्‍टीवेट किया हुआ है।

 

4: सिम खरीदने के लिए दिए गए डॉक्‍यूमेंट के अलावा अपनी फोटो पर भी परमानेंट मार्कर से साइन कर दें, वर्ना आपके डॉक्‍यूमेंट्स का रीयूज या कहें कि मिसयूज होने की पूरी पॉसिबिलिटी रहेगी।

 

 

5: सिम खरीदने के लिए अपने ओरिजिनल डॉक्‍यूमेंट्स की फोटोकॉपी कराते समय कोई भी कॉपी दुकान पर मत छोड़ें। कई बार कोई फोटोकॉपी साफ या अच्‍छी न आने पर लोग उसे वहीं छोड़कर चले जाते हैं। ऐसा न करें वर्ना कोई और उसका मिसयूज कर सकता है।

 

6: आजकल जियो के अलावा कई मोबाइल कंपनियों के सिम बायोमेट्रिक्‍स स्‍कैन के बाद ही मिलते हैं। ऐसा करते समय बार बार थंब इंप्रेशन न दें। थंब इंप्रेशन का प्रोसेस सिर्फ एक बार किया जाता है।

 

सबसे सस्‍ता 4G स्‍मार्टफोन सच में है कमाल, कीमत ऐसी कि पूरे घर के लिए लेने का मन करे

 

7: पिछले कुछ दिनों में ऐसे केस भी पुलिस के पास आ चुके हैं जिनमें सिम वेंडर ने ग्राहक को बिना बताए उससे थंब इ्ंप्रेशन कई बार लगवाए और उससे कई फर्जी लोगों के सिम एक्‍टीवेट कर दिए।

 

8: सिम खरीदने के लिए सभी जरूरी डॉक्‍यूमेंट्स देने या थंब इंप्रेशन देने के बाद भी अगर आपका नया सिम एक्‍टीवेट न हो तो किसी नए वेंडर के पास जाकर दोबारा प्रक्रिया न दोहराएं। बल्‍कि आप उसी दुकानदार या एजेंट को मिलें और अगर वो कुछ गोलमाल जवाब दे, तो पुलिस कंप्‍लेन करने से भी हिचकें। हो सकता है कि दुकानदार आपकी आईडी का मिसयूज कर रहा हो।

 

9: नया मोबाइल सिम हमेशा अधिकृत सिमकार्ड विक्रेता या ऑफीशियल कस्‍टरसेंटर से खरीदें। कहीं से भी सिम कार्ड लेने पर डॉक्‍यूमेंट मिसयूज या फ्रॉड की पॉसिबिलिटी ज्‍यादा होती है।

 

 

सभी एंड्रॉयड यूजर्स करते हैं ये 10 गलतियां, कहीं आप भी तो नहीं...


5000 रुपये से कम में खरीदे ये 4जी स्मार्टफोन

 

10: घर के खास मेंबर्स को छोड़कर अपनी आईडी / थंब इंप्रेशन से किसी दोस्‍त या अन्‍य रिश्‍तेदार के लिए सिम न खरीदें। अगर फ्यूचर में वो कोई क्राइम करता है या आपकी आईडी वाले मोबाइल नबंर से कोई रॉन्‍ग कॉल कर देता है तो आप पुलिस के चक्‍कर में फंस सकते हैं।

Technology News inextlive from Technology News Desk