तेलुगू की भानुरेखा हो गई हिंदी फिल्‍मों की 'उमराव जान'

By: Inextlive | Publish Date: Tue 10-Oct-2017 10:10:53   |  Modified Date: Tue 10-Oct-2017 11:05:29
A- A+
तेलुगू की भानुरेखा हो गई हिंदी फिल्‍मों की 'उमराव जान'
हमेशा अपने अभ‍िनय और खूबसूरती के ल‍िए चर्चा में रहने वाली एक्‍ट्रेस रेखा की जि‍तनी तारीफ की जाए कम है। 63 साल की उम्र में भी बला की खूबसूरत लगती हैं। तेलुगू फि‍ल्‍मों से सफर शुरू करने वाली भानुरेखा आज बॉलीवुड फि‍ल्‍मों की उमराव जान के नाम से भी जानी जाती है। आइए जानें 10 अक्‍टूबर, 1954 को जन्‍मीं एक्‍ट्रेस रेखा के बारे में कुछ खास बातें...

बेबी भानुरेखा की पहली फ‍िल्‍म
एक्‍ट्रेस रेखा का असली नाम भानुरेखा है। अभिनय क्षेत्र में करियर बनाने के लिए पढ़ाई छोडऩे वाली बेबी रेखा ने 1966 में तेलुगू फ‍िल्‍म रंगूल रत्‍नम में काम कि‍या। इस फ‍िल्‍म में बाल कलाकार के रूप में इनके काम की काफी सराहना हुई।



फ‍िल्‍म सावन भादों का ऑफर

इसके बाद रेखा को हिंदी फ‍िल्‍म सावन भादों का ऑफर म‍िला। इस फ‍िल्‍म में रेखा को लीड़ एक्‍ट्रेस का रोल म‍िला था। इस पर रेखा काफी खुश हुईं और हां कर दि‍या। हालांक‍ि इसके ल‍िए एक्‍ट्रेस रेखा को हिंदी सीखनी पड़ी। फ‍िल्‍म ह‍िट हुई।



सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार
रेखा के फ‍िल्‍मी सफर में सबसे बड़ा मोड़ 1981 में हिंदी फि‍ल्‍म उमराव जान से आया। यह फ‍िल्‍म इतनी ह‍िट हुई क‍ि इसके बाद से लोग उन्‍हें उमराव जान कहकर पुकारने लगे। इसके लिए 'सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार'भी म‍िला।



पद्म श्री पुरस्‍कार से सम्‍मान‍ित
एक्‍ट्रेस रेखा ने अपने करीब 40 साल से अध‍िक के कर‍ियर में 170 से ज्‍यादा फ‍िल्‍मों में काम क‍िया है। बेहतर अभ‍िनय के लि‍ए इन्‍हें कई पुरस्‍कार म‍िले।  2010 में रेखा को पद्म श्री पुरस्‍कार से भी सम्‍मान‍ित कि‍या जा चुका है।



बड़े स्‍टार्स के साथ नाम जुड़ा
नमक हराम, धर्मात्मा, खून भरी मांग, खून पसीना, गंगा की सौगंध, घर, जैसी तमाम फ‍िल्‍में देने वाली रेखा को नि‍जी जीवन में कई उतार-चढ़ाव भी देखने पड़े। बॉलीवुड में अम‍िताभ जैसे कई एक्‍टर्स के साथ इनका नाम जुड़ा।

दिशा पटानी ने बैकलेस ड्रेस पहनी तो ट्रोल पड़ गए पीछे, किए भद्दे कमेंट्स

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk