- शहर में तीन सड़क हादसों में तीन की मौत, बिधून में खड़े ट्रक में घुसी एम्बुलेंस

-रूमा भौती ब्रिज में ट्रक की टक्कर से महिला की मौत, पति और बेटी घायल

-सिविल लाइन्स में कार ने स्कूटी सवार हलवाई को रौंदा, मौके पर तोड़ा दम

kanpur@inext.co.in

KANPUR : गुरुवार को सड़क हादसों में तीन परिवारों की खुशियां पहियों तले दफन हो गई. तीन अलग-अलग रोड एक्सीडेंट्स में तीन लोगों की मौत हो गई और कई घायल हो गए. पुलिस ने शवों को पोस्टमॉर्टम भेज घायलों को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है.

ड्राइवर की झपकी, पेशेंट की मौत

बिधनू में गुरुवार को एम्बुलेंस ड्राइवर की झपकी से घायल सुरेंद्र कुमार निषाद (25) की जान चली गई. वो मौदाहा निवासी कल्लू का बेटा था. उसके परिवार में पत्नी नन्ही और दो बेटियां हैं. वो प्राइवेट काम करता था. वो कुछ दिनों पहले बाइक भिड़ंत में गंभीर रूप से घायल हो गया था. उसका एक हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था. जहां आराम न मिलने पर पिता कल्लू उसको एम्बुलेंस से हैलट ला रहे थे. एम्बुलेंस में घायल सुरेंद्र, उसका पिता कल्लू, दोस्त राहुल, ड्राइवर कुलदीप और उसका साथी हरिओम थे. तड़के बिधनू हाईवे पर ड्राइवर कुलदीप को झपकी आने से एम्बुलेंस एक खड़े ट्रक में घुस गई. हादसे में सुरेंद्र की मौत हो गई, जबकि अन्य लोग घायल हो गए.

कार ने रौंद दी जिंदगी

सिविल लाइन्स में बुधवार देर रात तेज रफ्तार कार ने पप्पू कुमार (56) को रौंद दिया. वो स्वरूपनगर में सिंघानिया वाली बिल्डिंग के पास रहते थे. उनके परिवार में पत्नी बीना और दो बेटे हैं. वो हलवाई का काम करता था. बुधवार को उनका कैंट में तिलक समारोह में काम लगा था. वो देर रात को काम खत्म कर स्कूटी से घर जा रहे थे. सिविल लाइन में एक तेज रफ्तार कार स्कूटी में टक्कर मारकर निकल गई. हादसे में पप्पू की मौके पर मौत हो गई.

ट्रक बना काल

सरसौल के बंबुरिया गांव में रहने वाले भोला प्रसाद पाल किसान हैं. उनके परिवार में पत्नी सिया जानकी और बेटी रश्मि (14) थे. वो गुरुवार को पत्नी और बेटी के साथ बाइक से भोगनीपुर साढ़ू के बेटे की शादी में जा रहा था. रूमा भौती ब्रिज से जुगइया मोड़ के ऊपर पहुंचा था कि एक तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक में पीछे से टक्कर मार दी. हादसे में सिया जानकी की मौत हो गई, जबकि भोला और रश्मि गंभीर रूप से घायल हो गए.