GORAKHPUR: गुलरिहा इलाके के हरसेवकपुर नंबर दो चौहान टोला में रविवार की रात एक बजे दावत कर रहे युवकों ने अपने ही दोस्त की गोली मारकर हत्या कर दी. सभी पार्टी करने के दौरान शराब के नशे में चूर थे. नशे में दोस्त को गोली मारने के बाद इलाज के लिए उसके साथियों ने ही कार से मेडिकल कॉलेज पहुंचाया. जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. रात में ही गांव के किसी व्यक्ति ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी. सूचना पाकर एसपी साउथ ज्ञानप्रकाश चतुर्वेदीे, सीओ चौरीचौरा, गुलरिहा व शाहपुर पुलिस मौके पर पहुंच गई और मामले की पड़ताल में जुट गई. हालांकि दोस्त को मेडिकल कॉलेज पहुंचाकर उसके हत्यारे दोस्त वहां से फरार हो गए. पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

तीनों बैठकर पी रहे थे शराब

गुलरिहा के हरसेवकपुर के रहने वाले राजेश चौहान का 20 वर्षीय बड़ा बेटा संदीप चौहान और उसी गांव के सनी चौहान व विकास चौहान जिगरी दोस्त थे. बताया जा रहा है कि तीनों बचपन से ही एक साथ पढ़े-लिखे व साथ ही कारोबार करते थे. वहीं, संदीप दो माह पूर्व कारोबार के सिलसिले में मुंबई गया था. जहां सफलता नहीं मिलने पर वह बीते 3 अप्रैल को पासपोर्ट बनवाने गांव वापस आ गया. उसका दोस्त सनी चौहान उत्तराखंड के हरिद्वार में मजदूरों की सप्लाई का ठेकेदार है और विकास जमीन का कारोबार व ट्रेवेल्स एजेंसी चलता है. तीनों में संदीप ही आर्थिक रूप से कमजोर था. सनी का गांव मे तीन मकान है जिसमे खाली पड़े दो मंजिला मकान पर तीनों अक्सर रात में रुकते और दावत करते थे.

पार्टी करने के दौरान हुआ विवाद

रविवार की रात भी आईपीएल मैच देखने के बाद देर रात तीनों दावत करते हुए शराब पीना शुरू किए. इस बीच किसी बात को लेकर तीनों का आपस में विवाद व कहासुनी शुरू हो गई. तीनों शराब के नशे में धुत थे. वहीं, नशे की हालत में सनी व विकास ने मिलकर संदीप के सीने पर असलहा सटा कर गोली मार दी. संदीप गोली लगते ही तड़पने लगा. जिससे उसके दोस्तों ने घबराकर घटना की सूचना अपने-अपने परिवारजनों को दी. जिस पर घर वाले रात में ही फरार हो गए और विकास के फोर व्हीलर से दोनों मिलकर पहले तो संदीप को मेडिकल कॉलेज ले गए, लेकिन डॉक्टरों के मृत घोषित करने के बाद दोनों वहां से फरार हो गए. वहीं, पुलिस मृतक संदीप के परिजनों की तहरीर पर उसके दोस्त सनी चौहान व विकास चौहान के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है.

हत्यारों के करीब पहुंची पुलिस

हत्या की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस घटना के बाद से ही हरकत में आ गई. एसपी साउथ ज्ञान प्रकाश चतुर्वेदी के नेतृत्व में पुलिस की अलग-अलग टीमें आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है. वहीं, ग्रामीणों का आक्रोश देख आरोपियों के घरों पर भी पुलिस तैनात कर दी गई है. पुलिस के मुताबिक घटना के तत्काल बाद ही आरोपियों का मोबाइल लोकेशन ट्रेस कर लिया गया है. सोमवार को आरोपियों का लोकेशन संतकबीरनगर जिले में मिला. लोकेशन मिलते ही पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए रवाना हो गई. पुलिस का दावा है कि जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा कर दिया जाएगा.

दोस्तों के आपस में बैठकर दावत व शराब पीने के दौरान दो दोस्तों ने मिलकर तीसरे की गोली मारकर हत्या कर दी. म़ृतक के दोनों दोस्तों के खिलाफ नामजद केस दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है. जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

ज्ञान प्रकाश चतुर्वेदी, एसपी साउथ