इंसानों को छोड़ ये कंपनी फेस रिकग्निशन टेक्‍नोलॉजी से गाय-भैंसों की जिंदगी संवार रही है!

By: Chandra Mohan Mishra | Publish Date: Tue 13-Feb-2018 04:55:17   |  Modified Date: Tue 13-Feb-2018 05:55:23
A- A+
इंसानों को छोड़ ये कंपनी फेस रिकग्निशन टेक्‍नोलॉजी से गाय-भैंसों की जिंदगी संवार रही है!
आजकल स्मार्टफोन और लैपटॉप में फेस रिकग्‍नीशन टेक्नोलॉजी से डिवाइसेस को लॉक - अनलॉक करने के बारे में हम सभी देख सुन रहे हैं, हालांकि अभी भी दुनिया में चीन, अमेरिका जैसे देश ही मोबाइल फोन के अलावा फेस रिकग्‍नीशन टेक्नोलॉजी का इस्‍तेमाल सीसीटीवी सिस्‍टम में भी ठीक से कर पा रहे हैं। इसी बीच एक कंपनी ऐसी फेस रिकग्‍नीशन टेक्नोलॉजी आई है जो इंसानों की नहीं बल्कि गाय-भैंसों का फेशियल रिकग्निशन करके उनकी जिंदगी संवारने का काम करने जा रही है। चलिए जरा हम भी तो जानें कि ये फेस रिकग्‍नीशन टेक्नोलॉजी कैसे करेगी गाय भैंसों का कल्‍याण।

फेस रिकग्निशन तकनीक से बेहतर बनेगी गायों की जिंदगी

स्मार्ट फोन और लैपटॉप में फेस रिकग्निशन टेक्नोलॉजी को आए हुए कुछ साल हो चुके हैं लेकिन अभी भी यह तकनीक सक्सेसफुल तरीके से डिवाइसेस में काम नहीं करती और यह ट्रायल लेवल पर ही चल रही है। हालांकि चाइना अपनी सबसे हाईटेक फेस रिकग्‍नीशन टेक्नोलॉजी के साथ पूरे देश में कई करोड़ कैमरे लगवा रही है, जो भीड़ में से किसी भी अपराधी को पहचान सकेंगे। खैर चाइना को छोड़ देते हैं और बताते हैं, आयरलैंड की एक कंपनी के बारे में तो अपनी खास फेस रिकग्‍नीशन टेक्नोलॉजी की मदद से डेयरी में रहने वाली गायों की पहचान कर उनकी जिंदगी को भी बेहतर बनाना चाहती है। आयरिश कंपनी Cainthusअपनी अनोखी फेस रिकग्निशन तकनीक को दुनिया भर की डेरी फॉर्म में पहुंचाना चाहती है


सेल्फ ड्राइविंग कार भूल जाइए अब अब तो सेल्फ ड्राइविंग चप्पलें लेकर आ गई है ये कंपनी

science news, face recognition, face detection, facial recognition technology, face recognition technology, cow, buffalo, face recognition of cows, animal face recognition technology, science news in Hindi,Tech news in Hindi


सेल्फ ड्राइविंग कार भूल जाइए अब अब तो सेल्फ ड्राइविंग चप्पलें लेकर आ गई है ये कंपनी

गाय भैंसों के फेशियल रिकग्निशन से होंगे ये फायदे

Cainthus कंपनी फेस रिकग्निशन तकनीक से लैस अपने डाटा सॉल्‍यूशन सिस्टम को लेकर दुनिया की प्रमुख एग्रीकल्चरल और डेरी फार्मिंग कंपनी कारगिल के साथ कॉन्‍ट्रैक्‍ट कर रही है। इस नए फेस रिकग्निशन सिस्‍टम और प्रो्ग्राम द्वारा गायों को उनके चेहरे के फीचर्स और उनके शरीर पर मौजूद कुछ छुपे हुए पैटर्न के आधार पर पहचाना जाएगा। जानवरों का चेहरा देखकर उन्‍हें पहचानने वाले सिस्‍टम से कंपनियां अपने जानवरों की दिनचर्या, आदतों, खाने पीने के पैटर्न और उनके शरीर के तापमान की ऑटोमेटिक निगरानी कर सकेंगी। इस नए सिस्टम का फायदा यह होगा कि इसकी मदद से डेयरी कंपनी हर एक जानवर के बारे में बेहतर ढंग से जान पाएगी और उनके स्वास्थ्य से जुड़े तमाम मामलों में सही समय पर सही फैसला ले पाएंगी।

science news, face recognition, face detection, facial recognition technology, face recognition technology, cow, buffalo, face recognition of cows, animal face recognition technology, science news in Hindi,Tech news in Hindi


हवाई जहाज सफेद ही क्यों होते हैं? वजह हैं इतनी सारी, जो हमने भी नहीं सोची थीं

इस नई टेक्नोलॉजी को लेकर कारगिल कंपनी के एक सीनियर अधिकारी ने बताया है कि जानवरों के फेस रिकग्निशन की यह हाईटेक तकनीक डेयरी उद्योग में क्रांति ला सकती है, क्योंकि इसके द्वारा किसी भी डेरी में मौजूद हर एक जानवर की सही पहचान होगी और उसके शरीर और उसके स्वास्थ्य में हो रहे तमाम बदलावों को समझा जा सकेगा। यानि कि अब डेयरी फार्म कंपनियां अपने जानवरों का बेहतर ख्याल रखकर अपनी प्रोडक्टिविटी में जबरदस्त सुधार कर पाएंगी।


चाइनीज पुलिस ऑफिसर्स के ये सनग्लासेस सेकेंडों में पहचान लेते हैं हर अपराधी को, वैसे ये चश्में इंडियन पुलिस को कब मिलेंगे?

International News inextlive from World News Desk

खबरें फटाफट