- बालू अड्डे के पास स्कार्पियो सवारों पिस्टल लगाकर किया अपहरण

- मारा समझकर कर कैंट के जंगल में फेंक दिया था

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW:

बीयर का शौक पूरा करने के लिए स्कॉर्पियो सवार रईसजादों ने एक नग कारोबारी का कार समेत अपहरण किया और तीन घंटे तक उसे कार में घुमाते हुए पीटते रहे. जब कारोबारी मरणासन्न हालत में पहुंच गया तो उसे कैंट के जंगल में फेंक उसकी कार की चाबी, दो मोबाइल और एटीएम लेकर भाग गए. कारोबारी ने अपहरण और लूटपाट की शिकायत हजरतगंज थाने में दर्ज कराई. साइबर सेल और हजरतगंज पुलिस ने अपहरण और लूटपाट करने वाले रईसजादों को गिरफ्तार कर लिया है.

टक्कर मारने की बात कह रोका

गोमती नगर निवासी नग कारोबारी सौरभ सिंह 12 जुलाई की रात हजरतगंज रेस्त्रां में खाना खाने जा रहे थे. 1090 चौराहे के पास बिना नंबर की स्कॉर्पियो सवार कुछ युवकों ने गाड़ी आगे लगाकर उन्हें रोका और गाड़ी में टक्कर मारने का आरोप लगा मारपीट करने लगे. तभी 100 नंबर पुलिस वैन वहां पहुंची और दोनों पक्षों में समझौता करा मामला खत्म करा दिया.

पिस्टल सटा किया किडनैप

इसके बाद सौरभ कार लेकर हजरतगंज जाने के लिए बालू अड्डे की तरफ मुड़े. इसी बीच स्कॉर्पियो सवार युवकों ने बालू अड्डे के पास उन्हें फिर रोका और सॉरी बोल हाथ मिलने लगे. तभी एक युवक ने उनके पिस्टल सटा दी और उसकी कार में सवार हो गया. उसके साथ दो अन्य युवक भी बैठ गए और स्कॉर्पियो को फालो करने को कहा.

कारोबारी के पैसे से खरीदी बीयर

ये युवक कारोबारी को चारबाग ले गए और वहां उसकी जेब में रखे नौ हजार रुपये निकाल बीयर शॉप से बीयर खरीदी और सौरभ की गाड़ी में ही उसे पीते रहे. दबंग उसे कैंट के रजमन बाजार ले गए. जहां उसे पीटकर मरणासन्न हालत में जंगल में फेंक दिया.

13 को कराई थी एफआईआर

सौरभ काफी देर जंगल में पड़ा रहा. रात 2 बजे उसे 100 नंबर की पुलिस वैन दिखी जिससे उसने मदद मांगी तो पुलिस कर्मियों ने उसे कैंट थाने पहुंचाया. 13 जुलाई को सौरभ ने हजरतगंज थाने में इस मामले में एफआईआर दर्ज कराई.

बीयर के लिए करते थे लूट

सौरभ के मोबाइल फोन की लोकेशन के आधार पर पुलिस ने कैनाल कॉलोनी हुसैनगंज के रजत सिंह, पुराना किला हुसैनगंज निवासी अर्जुन तिवारी उर्फ पंकज, गायत्री नगर देवपुर पारा निवासी विकास वारला और एलडीए कॉलोनी सरोजनी नगर निवासी कृष्णा उपाध्याय को गिरफ्तार किया. हजरतगंज इंस्पेक्टर आनंद शाही ने बताया कि पकड़े गए युवक बड़े परिवार से तालुक रखते हैं. इन्होंने बीयर का शौक पूरा करने के लिए कारोबारी से लूटपाट की थी.