- 6 मार्च को पशुपति नगर सबस्टेशन में लगाया गया नया 10 एमवीए ट्रांसफॉर्मर

-आधा दर्जन मोहल्लों में रहा बिजली संकट, मार्च में अब तक जले 3 पॉवर ट्रांसफॉर्मर

kanpur@inext.co.in

KANPUR: पॉवर ट्रांसफॉमर्स खरीदने में गड़बड़ी का एक और एग्जाम्पल सामने आया. पशुपति नगर सबस्टेशन में लगाया 10 एमवीए पॉवर ट्रांसफॉर्मर 15 दिन भी नहीं चल सका. 6 मार्च को 45 लाख से अधिक में खरीदा गया यह पॉवर ट्रांसफॉर्मर मंडे की दोपहर डैमेज हो गया. इसकी वजह से हजारों लोगों को दोपहर से रात तक बिजली संकट का सामना करना पड़ा. ट्यूजडे को ही पॉवर सप्लाई नॉर्मल होने की संभावना है. केवल मार्च में ही अभी तक तीन पॉवर ट्रांसफॉर्मर डैमेज हो चुके हैं. एक मार्च को दालमंडी सबस्टेशन का 10 एमवीए पॉवर ट्रांसफॉर्मर डैमेज हुआ था. तब केस्को ऑफिसर्स ने सफाई दी थी कि पॉवर ट्रांसफॉर्मर वर्षो पुराना है. लेकिन वहां लगाया गया दूसरा 10 एमवीए पॉवर ट्रांसफॉर्मर भी 12 मार्च को जल गया. इसकी जांच की जिम्मेदारी केस्को के जीएम विनोद गंगवार, रजनीश कुलश्रेष्ठ सहित तीन सदस्यीय टीम को सौंपी गई थी. लेकिन जांच अभी तक पूरी नहीं हो सकी है. इधर मंडे यानि 20 मार्च को पशुपति नगर को लगाया गया नया पॉवर ट्रांसफॉर्मर डैमेज हो गया.

..........

01 मार्च- दालमंडी सबस्टेशन का पॉवर ट्रांसफॉर्मर जला

12 मार्च- दालमंडी सबस्टेशन में लगाया गया दूसरा पॉवर ट्रांसफॉर्मर डैमेज

06 मार्च- पशुपति नगर सबस्टेशन में 10 एमवीए ट्रांसफॉर्मर लगाया गया

20 मार्च- पॉवर ट्रांसफॉर्मर के ऑन लोड टैब चेंजर में उठी चिंगारियां, डैमेज