टीडब्ल्यूयू की कमेटी मीटिंग में उठा 2.73 लाख रुपये खर्च का मुद्दा

By: Inextlive | Publish Date: Fri 12-Jan-2018 07:00:11
A- A+
टीडब्ल्यूयू की कमेटी मीटिंग में उठा  2.73 लाख रुपये खर्च का मुद्दा

छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: टाटा वर्कर्स यूनियन (टीडब्ल्यूयू) की कमेटी मीटिंग में गुरुवार को विपक्ष ने लीगल खर्च को लेकर अध्यक्ष आर रवि प्रसाद को कठघरे में खड़ा किया। हाउस में जैसे ही नवंबर- दिसंबर का एकाउंट पास होने के लिए रखा गया, कोक प्लांट के कमेटी मेंबर आरसी झा ने सवाल उठा दिया। कहा कि खाते में लीगल खर्च 2.73 लाख रुपये दिखाया गया है। यह खर्च किस- किस मद में और किसने- किसने किया है, इसका ब्रेकअप हाउस में बताया जाए। आर रवि प्रसाद कुछ बोलते, इससे पहले ही विपक्ष के नेता आरके सिंह ने सवाल किया कि जब यूनियन चुनाव को लेकर चल रहे विवाद में हाइकोर्ट में बहस हुई ही नहीं है तो कैसे इतना खर्च हो गया। नेतृत्व हाउस को इसकी जानकारी दे। इसके बाद विपक्षी कमेटी मेंबर हो- हल्ला करने लगे। अध्यक्ष ने माहौल को शांत कराते हुए कहा कि लीगल मद में कहां कितनी राशि खर्च हुई है इसका हिसाब- किताब यूनियन के एकाउंट ऑफिस में जाकर ले सकते हैं। उन्होंने कोषाध्यक्ष प्रभात लाल को इसके लिए जिम्मेदारी सौंपी.

नहीं आए कोषाध्यक्ष

कमेटी मीटिंग खत्म होने के बाद विपक्ष के नेता यूनियन परिसर में बने एकाउंट ऑफिस में गए। कोषाध्यक्ष प्रभात लाल को भी फोन कर बुलाया गया मगर वे नहीं आए। इस वजह से वे लौट आए। हालांकि, एक लिखित पत्र देकर अध्यक्ष को शुक्रवार तक खर्च का ब्रेकअप लिखित अथवा बुलाकर दिखाने के लिए कहा गया है.

आरओ चुनाव की हुई घोषणा

टाटा वर्कर्स यूनियन की कमेटी मीटिंग में रिटर्निग अफसर का चुनाव कराने के लिए प्रस्ताव लाया गया। प्रस्ताव को शनिवार को हाउस में पारित कराया जाएगा। इसके बाद चुनाव की तिथियों की घोषणा की जाएगी। अभी तक 17 जनवरी तक चुनाव कराने की तैयारी यूनियन ने कर रखी है। हालांकि तिथि का निर्धारण उपश्रमायुक्त की ओर से पर्यवेक्षक नियुक्त करने पर ही होगा.

20 मिनट ही चली कमेटी मीटिंग

टाटा वर्कर्स यूनियन की कमेटी मीटिंग बमुश्किल 20 मिनट ही चली। माइकल जॉन सभागार में सुबह 9.30 बजे मीटिंग शुरू हुई। दिवंगतों को श्रद्धांजलि देकर इसका शुभारंभ किया गया। कुछ कमेटी मेंबरों को पिछले चुनाव का सर्टिफिकेट दिया गया। एक जनवरी को रिटायर हुए कमेटी मेंबर टीवी मोहन को विदाई दी गई। बीके डिंडा ने पिछली कार्रवाई के मिनट्स पढ़कर सुनाए। नवंबर- दिसंबर का एकाउंट पास हुआ। अंत में अध्यक्ष आर रवि प्रसाद ने चुनाव में जाने की घोषणा करते हुए कहा कि इस कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धि यूनियन के संविधान में संशोधन कराना रही। संशोधित संविधान के आधार पर ही अगला चुनाव होगा.

बीएन झा एंड टीम ने मांगा समर्थन

विपक्ष के कमेटी मेंबर सुबह 8.30 बजे ही यूनियन गेट के सामने आकर खड़े हो गए थे। कमेटी मीटिंग में शामिल होने के लिए आ रहे सभी सदस्यों के बीच विपक्ष ने पर्चे बांटे और आरओ समेत उपसमिति सदस्य पद पर दिए गए अपने उम्मीदवारों को जिताने की अपील की गई। उम्मीदवार बीएन झा और उनकी टीम ने भी स्वच्छ चुनाव कराने के लिए कमेटी मेंबरों से समर्थन मांगा।

inextlive from Jamshedpur News Desk