डीवाई पाटिल स्पोट्र्स स्टेडियम, नवी मुंबई

इस मैदान पर ग्रुप बी के मैच खेले जाएंगे, जिसमें पैराग्वे, माली, न्यूजीलैंड और टर्की शामिल हैं. इसके अलावा ग्रुप-ए में अमेरिका और कोलंबिया का मैच, कुछ प्रिक्वार्टर फाइनल और दूसरे सेमीफाइनल की भी मेजबानी इसे मिली है.

जवाहरलाल नेहरू इंटरनेशनल स्टेडियम, कोच्चि

यहां स्पेन व ब्राजील के मैच . ये दोनों टीमें ग्रुप डी से हैं, जिसमें कोरिया और नाइजर भी शामिल हों. ग्रुप डी के मैचों के अलावा यहां ग्रुप सी की टीमों जर्मनी व गिनी के मैचों के साथ प्रक्वार्टर फाइनल और एक क्वार्टर फाइनल भी होगा.

इंदिरा गांधी एथलेटिक इंटरनेशनल स्टेडियम

इस मैदान पर ग्रुप ई के मुकाबले होने हैं, जिसमें 2001 की विनर फ्रांस के अलावा पहली बार टूर्नामेंट में शिरकत कर रही कैलेडोनिया के साथ एशियन हैवीवेट जापान और सेंट्रल अमेरिकी देश हांडुरास शामिल है.

 

पं. जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, गोवा

यहां जर्मनी और ईरान व ब्राजील और नाइजर के बीच मैच खेले जाने हैं. इसके अलावा गिनी और कोस्टा रिका के बीच मैच की मेजबानी भी मिली है. यहां पर दो प्रि-क्वार्टर फाइनल और एक क्वार्टर फाइनल मैच भी होना है.

कानंद युबा भारती क्रीड़ांगन, कोलकाता

फुटबॉल के दीवाने शहर कोलकाता का यह मैदान अंडर-17 वल्र्ड कप के फाइनल का गवाह बनेगा. वह ग्रुप एफ, जिसे ग्रुप ऑफ डेथ कहा जा रहा है के मैचों की मेजबानी करेगा. इस ग्रुप में इंग्लैंड, मेक्सिको, चिली और इराक शामिल हैं.

जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, नई दिल्ली

यहां मेजबान इंडिया अपने पहले अंडर-17 वल्र्ड कप का आगाज करेगा. उसे 6 अक्टूबर को इसी मैदान पर अमेरिका से भिडऩा है. इसके अलावा 1991 और 1995 के विनर घाना, अमेरिका और कोलंबिया भी अपने ग्रुप मैच खेलेंगे.

Sports News inextlive from Sports News Desk

inextlive from News Desk