यूपी इलेक्शन 2017: आज शाम से थमेगा चुनाव प्रचार का शोर

By: Inextlive | Publish Date: Fri 17-Feb-2017 07:41:38
A- A+
यूपी इलेक्शन 2017: आज शाम से थमेगा चुनाव प्रचार का शोर

- अतिरिक्त सुरक्षा के साथ उड़नदस्ता और वीडियो टीमें भी अतिरिक्त लगाई

- मतदान केंद्र पर नहीं ले जा सकेंगे मोबाइल

- 240 बूथों पर होगी वेब कॉस्टिंग,

LUCKNOW :राजधानी की नौ विधानसभा सीटों पर 19 फरवरी को मतदान होगा। तीसरे चरण के चुनाव के लिए शुक्रवार की देर शाम तक चुनाव प्रचार थम जाएगा। इसे देखते हुए सभी दलों ने भी जनसंपर्क तेज कर दिया और अंतिम दो दिनों में कई बड़े नेताओं की रैलियां होने की उम्मीद है। इसके लिए प्रशासन ने भी कड़ी तैयारी की है। प्रशासन ने सभी विधानसभा वार 9- 9 अतिरिक्त उड़नदस्ता टीमों का गठन किया गया है। इसके साथ ही सभी विधानसभाओं में वीडियो रिकॉर्डिग के लिए पांच पांच टीमें तैनात कीई हैं।

प्रशासन ने कमर कसी

जिला प्रशासन के अधिकारियों की माने तो सभी नौ विधानसभाओं में पार्टियों के बड़े नेता रोड शो और जनसभाएं करेंगे। पब्लिक को परेशानी न हो इसके लिए पुलिस को सतर्क किया गया है। यही नहीं बड़े नेताओं की चुनावी सभा के दौरान जनता को किसी भी तरह से परेशानी का सामना नहीं हो इसके लिए जिला प्रशासन ने यातायात विभाग के साथ स्थानीय पुलिस को भी सर्तक किया है।

73 कंपनी सीपीएमएफ होगी तैनात

राजधानी में 1441 मतदान केंद्रों के 3360 बूथों पर 19 फरवरी को मतदान होना है। सुरक्षा के लिए 73 कंपनी सीपीएमएफ के अलावा पीएसपी व पुलिस बल को तैनात किया गया है। इनमें से 158 बूथों पर तैनाती के लिए अ‌र्द्धसैनिक बलों के जवान उपलब्ध नहीं हो सके हैं। एडीएम पश्चिमी जयशंकर दुबे के अनुसार 158 बूथों पर सुरक्षा की जिम्मेदारी लोकल पुलिस को ही दी जाएगी। हर बूथ पर एक एसआई और दो कांस्टेबल को अलग से तैनात किया जाएगा।

240 बूथों पर होगी वेब कॉस्टिंग

जय शंकर दुबे के मुताबिक मतदान के समय 240 बूथों पर वेब कॉस्टिंग की व्यवस्था की गई है। इनमें 34 संवेदनशील मतदान केंद्र और 82 बूथ शामिल हैं। इसके अलावा 245 मतदान केंद्रों और 709 अतिसंवेदनशील बूथों की भी वीडियोग्राफी कराई जाएगी। नॉन सीपीएमएफ बूथों में उन्हीं बूथ को रखा जाएगाए जहां पूर्व के चुनावों में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। इसके अलावा वीवीआईपी वोटरों के बूथों को भी इसी श्रेणी में रखा गया है।

माइक्रो ऑब्जर्वर भी रखेंगे नजर

पुलिस व अ‌र्द्धसैनिक बलों की तैनाती के साथ ही 1441 मतदान केंद्रों पर माइक्रो आब्जर्वर भी तैनात किए गए हैं। यह लोग वहां की हर गतिविधि पर नजर रखने के साथ ही उच्चाधिकारियों व इलेक्शन कंट्रोल रूम को पल पल की गोपनीय सूचनाएं भी मुहैया कराएंगे। इसके अलावा खुफिया तंत्र को भी मतदान के दौरान अलर्ट कर दिया गया है.

मोबाइल ले जाने पर पाबंदी

मतदान केंद्र और स्थल पर मतदाता अपना मोबाइल फोन और अन्य इलेक्ट्रानिक उपकरण नहीं ले जा पाएंगे। पहले और दूसरे चरण में कई मतदाताओं द्वारा वोट के दौरान सेल्फी लेने और सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के मामलों को गंभीरता से लिया है। ऐसा करने वाले दो मतदाताओं की गिरफ्तारी भी हो चुकी है। एडीएम जयशंकर दूबे ने बताया कि मतदान स्थल पर मोबाइल और अन्य इलेक्ट्रानिक्स डिवाइस पर पांबदी लगी है.

तैयारी पूरी , रवाना होंगी पोलिंग पार्टी

चुनाव के लिए लिए 1441 मतदान केंद्र व 3360 मतदान स्थल बनाए गए हैं। शनिवार की सुबह से चुनाव ड्यूटी में लगी पोलिंग पार्टियों पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी प्रथम मतदान अधिकारी, द्वितीय व तृतीय मतदान अधिकारी और तीन विधानसभा क्षेत्र में इस्तेमाल होने वाली वीवीपैट कर्मचारी की रवानगी की जाएगी। पोलिंग पार्टियों को आशियाना के लखनऊ महोत्सव स्थल से रवाना किया जाएगा।

विधानसभा मतदान केंद्र- - मतदान स्थल

168 मलिहाबाद - - 289- - 375

169 बीकेटी 250- - 402

170 सरोजनीनगर - - 215- - 458

171 लखनऊ पश्चिम 95- - 387

172 लखनऊ उत्तर 68- - 345

173 पूर्व 75- - 369

174 लखनऊ मध्य 83- - 329

175 लखनऊ कैंट - - 68- - 318

176 मोहनलालगंज - - 298- - 377

inextlive from Lucknow News Desk